विद्युत भवन निर्माण की अनदेखी पर पालमपुर के पूर्व विधायक प्रवीण शर्मा खफा

पिछले दस सालों से कछुआ गति से हो रहा है निर्माण कार्य

राजेश व्यास। पालमपुर

पालमपुर के लोहना में विद्युत विभाग के जिस भवन की नींव भाजपा के पूर्व विधायक प्रवीण शर्मा ने लगभग दस साल पहले रखी थी, उसका निर्माण कार्य आज भी अधर में लटका हुआ है। कछुआ गति से चल रहे इस निर्माण कार्य पर पूर्व विधायक प्रवीण शर्मा ने नाराजगी जाहिर की है। पालमपुर के पूर्व विधायक प्रवीन शर्मा ने कहा कि बतौर विधायक उन्होंने विद्युत विश्राम गृह लोहना के साथ अनुमानतः ढाई करोड़ रुपए की लागत से तीन मंजिला विद्युत भवन की आधारशिला रखी थी , जिसमें एक मंजिल पर विद्युत उप मण्डल अधिकारी, दूसरी पर अधिशासी अभियंता व तीसरी मंजिल पर अधीक्षण अभियंता का कार्यालय प्रस्तावित है। पूर्व विधायक ने खेद व्यक्त करते हुए कहा कि 29 नवंबर को इस भवन की आधारशिला को रखे हुए 10 वर्ष हो जाने हैं लेकिन इस भवन का निर्माण कार्य कछुए की चाल की तरह चला हुआ है। पूर्व विधायक ने कहा कि उनके बतौर विधायक रहते हुए जब मिनी सचिवालय पालमपुर में विभिन्न विभागों के लिए भवन अलॉट किए गए थे तो उस वक्त पुराने एस डी एम कार्यालय भवन को विद्युत मंडल को सशर्त दिया गया है कि भविष्य में जव विधुत विभाग का अपना भवन तैयार हो जाएगा तो यह भवन खंड विकास कार्यालय के लिए प्रयोग में लाया जाएगा।

पूर्व विधायक ने जहां पालमपुर नगर निगम को बनाए जाने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का दिल से धन्यवाद व्यक्त किया है वहीं संगठनात्मक जिला पालमपुर की दो दो विधानसभा क्षेत्रों में चल रहे दो दो खंड विकास कार्यालयों में से एक को पालमपुर में शिफ्ट करने के आदेश जारी कर यहाँ विना आर्थिक बोझ के स्वतंत्र खंड विकास कार्यालय खोलने का आग्रह किया है ।