राठौर ने की फंसे लोगों को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की मांग

शिमला
कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से देश प्रदेश में कोरोना महामारी के चलते ब्लॉक डाउन की वजह से फंसे लोगों को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की मांग की है।उन्होंने कहा है कि पहले  चरण के लॉक डाउन में यह लोग 21 दिनों से ज्यादा का क्वारन्टीन पूरा कर चुके है।इन लोगों में किसी भी प्रकार का कोई संक्रमण भी नही है,इसलिए इन लोगों को मानवता के आधार पर सरकारी खर्च पर उनके घर सुरक्षित पहुंचाने की कोई व्यवस्था तुरंत की जानी चाहिए।उन्होंने कहा है कि प्रदेश के बाहर और अंदरूनी जिलों से हजारों लोगों के फोन और सन्देश कांग्रेस को मिल रहें है जो अपने अपने घरों में जाने की गुहार लगा रहें है।
राठौर ने कहा है कि चूंकि अब देश मे 3 मई तक का लॉक डाउन फिर से लागू हो गया है,इसलिए इन लोगों को अगर उनकें घरों तक पहुंचाया जाता है तो इन्हें किसी भी तनाब से मुक्त किया जा सकता है।
राठौर ने कहा है कि प्रदेश में इस महामारी को लेकर सभी पूरी तरह सचेत है,यही वजह है कि अन्य प्रदेशों की अपेक्षा प्रदेश की स्थिति सन्तोष जनक है।उन्होंने कहा है कि लॉक डाउन की बजह से श्रमिकों और दैनिक कामगारों के जीवन पर । व्यापक असर पड़ रहा है।
राठौर ने कहा है कि प्रदेश का मध्यम वर्ग को भी पीडिएस के तहत सस्ता राशन दिया जाना चाहिए।उन्होंने कहा है कि कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखकर पीडिएस के तहत सभी लोगों को 6 माह का राशन निशुल्क देने की मांग की है।उन्होंने कहा है कि प्रदेश में भी इस मांग को पूरा किया जाना चाहिए।उन्होंने कहा है कि इस माहमारी को लेकर पूरा देश सरकार के साथ खड़ा है,इसलिए सरकार को सभी लोगों के इनकी किसी भी समस्या को दूर करने का उत्तरदायित्व भी है। राठौर ने इस माहमारी को लेकर अधिक से अधिक अस्पतालों में इसके टेस्ट सुविधा की मांग करते हुए कहा है कि अस्पतालों में ओपीडी व्यवस्था भी चालू की जानी चाहिए, जिससे लोग को अपनी अन्य विमारियों के ईलाज की सुविधा भी मिल सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *