आठ सीटों पर 100 से ऊपर दोवदार, वीरभद्र समर्थकों को टिकट के लिए कड़ी चुनौती

शिमला, 13 अगस्त ।

विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस पार्टी में टिकट के लिए आवेदन करने का दौर जोरों पर है। शिमला जिले की आठ विस क्षेत्रों से टिकट दावेदारों की संख्या 100 से ऊपर जा पहुंची है।  ब्लाक स्तर पर आवेदन करने की तिथि समाप्त हो गई है। लेकिन जिला और प्रदेश कांग्रेस कमेटी को आवेदन करने का सिलसिला जारी है। अभी तक शिमला शहरी से 14, शिमला ग्रामीण से 10, चौपाल से 11, रोहडू से 6, रामपुर और जुब्बल से 5, ठियोग से 2 और कुसंूपटी से 2 लोगों ने सीधे प्रदेश कांग्रेस कमेटी को आवेदन किया है। टिकट तलबगारों के ब्लाक व जिला कमेटियों के पास अलग से दर्जनों आवेदन पहुंचे हैं।
जिले की हरेक सीट से दावेदारों की फौज सामने आने से टिकट का संघर्ष रोचक हो गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह समर्थकों ने सभी सीटों पर अपनी दावेदारी पेश की है। जिले की प्रत्येक सीट पर वीरभद्र समर्थकों को विरोधी खेमे से कड़ी टक्कर मिल रही है।
कुसुंपटी विस क्षेत्र से वीरभद्र की पत्नि प्रतिभा सिंह और प्रदेश कांग्रेस महासचिव कुलदीप राठौर के बीच टिकट के लिए कड़ा मुकाबला है। राठौर आनंद समर्थकों मेें गिने जाते हैं।  ठियोग विधानसभा क्षेत्र से वीरभद्र समर्थक जिला कांग्रेस अध्यक्ष (ग्रामीण) केहर सिंह खाची की नेता विपक्ष विद्या स्टोक्स से टिकट की जंग है।

चौपाल से वर्तमान विधायक व वीरभद्र समर्थक सुभाष मंगलेट का प्रदेश कांग्रस कमेटी सदस्य रजनीश किमटा के बीच संघर्ष है। कोटखाई से पहली बार वीरभद्र के खासमखास यशवंत छाजटा ने दावेदारी जताई है। यहां पूर्व विधायक रोहित ठाकुर टिकट के दावेदार हैं। रामपुर से पूर्व मंत्री सिंघी राम ने आवेदन किया है। यहां सिटिंग विधायक नंद लाल के लिए चुनौती है। नंद लाल वीरभद्र समर्थकों में हैं। शिमला शहरी सीट से पूर्व उपमहापौर हरीश जनार्था ने दावेदारी ठोकी है। वीरभद्र के कट्टर समर्थक जनार्था को पूर्व विधायक हरभजन भज्जी और आदर्श सूद से चुनौती मिल रही है।
शिमला ग्रामीण से 15 लोगों ने टिकट के लिए आवेदन किया है। माना जा रहा है कि यहां से वीरभद्र सिंह चुनाव लड़ सकते हैं। हालांकि अभी तक सिंह ने टिकट के लिए आवेदन नहीं किया है। रोहड़ू (आरक्षित) से 15 नेताओं ने आवेदन ब्लॉक समिति के पास जमा करवाए हैं।
प्राप्त आवेदनों को जिला कमेटी 17 अगस्त तक प्रदेश कांग्रेस समिति को भेजेगी। 24 अगस्त के बाद प्रदेश समिति जांच के बाद पैनल को प्रदेश स्क्रीनिंग समिति को भिजवाएगी। इसके बाद प्रदेश के सभी 68 विधानसभा चुनाव हलकों से पार्टी प्रत्याशियों के नामों की फाइनल सूची जारी आलाकमान द्वारा जारी की जाएगी।

 

CategoriesUncategorized

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *