पांगी-भरमौर क्षेत्र के प्रतिनिधिमण्डल ने की मुख्यमंत्री से भेंट

Himachal News Latest News

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांगी प्रदेश का सबसे दुर्गम क्षेत्र, विकास की दृष्टि से इस क्षेत्र को विशेष महत्व

नार्थ गजट न्यूज। शिमला

प्रदेश सरकार जनजातीय, पिछड़े तथा दुर्गम क्षेत्रों के सर्वांगीण और संतुलित विकास के लिए प्रतिबद्ध है ताकि वे प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई विकासात्मक व कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठा सकें। यह बात मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ओक ओवर स्थित अपने सरकारी आवास में भरमौर के विधायक जिया लाल कपूर की अध्यक्षता में पांगी-भरमौर के एक प्रतिनिधिमण्डल को सम्बोधित करते हुए कही

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांगी-भरमौर प्रदेश का सबसे दुर्गम क्षेत्र है और सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि विकास की दृष्टि से इस क्षेत्र को विशेष महत्व प्रदान किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार क्षेत्र के लोगों को 1500 सोलर लाइट प्रदान करेगी और इस क्षेत्र के लोगों की बिजली की समस्याओं को दूर करने के लिए आवश्यक कदम भी उठाएगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार क्षेत्र के लोगों के लिए आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त आपूर्ति भी सुनिश्चित करेगी, ताकि सर्दियों के महीनों में उन्हें किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि न केवल आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बल्कि चिकित्सा व अन्य आपातकालीन परिस्थितियों में क्षेत्र के लोगों को बाहर निकालने के लिए पर्याप्त उड़ाने सुनिश्चित की जाएंगी।

विधायक भरमौर जिया लाल कपूर ने मुख्यमंत्री के समक्ष क्षेत्र की बिजली की समस्या के समाधान के लिए क्षेत्र में 5 मेगावाट के ऊर्जा संयंत्र के निर्माण के मामले को रखा। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न मांगों के बारे में भी मुख्यमंत्री को अवगत करवाया।

भाजपा मण्डलाध्यक्ष हाक्कम राणा, जनजातीय परामर्श समिति सदस्य तरूप चंद, राज कुमार और क्षेत्र के अन्य लोग भी इस अवसर पर उपस्थित थे।