जानिए जयराम सरकार के नए मंत्रियों के बारे में

Featured Story Latest News

 

नार्थ गजट न्यूज। शिमला

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने आज यहां राजभवन में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की उपस्थिति में सादे व गरिमापूर्ण समारोह में तीन नए मंत्रियों को पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई।पावंटा साहिब विधानसभा क्षेत्र के विधायक सुख रामए नूरपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक राकेश पठानिया व घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के विधायक राजिन्द्र गर्ग ने मंत्री पद की शपथ ग्रहण की। मुख्य सचिव अनिल खाची ने कार्यवाही का संचालन किया। सामाजिक दूरी के मापदण्डों को ध्यान में रखते हुए शपथ ग्रहण समारोह सीमित लोगों की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

संक्षिप्त जीवन परिचय
सुख राम

सुख राम का जन्म 15 अप्रैलए 1964 को गांव अमरगढ़ के पांवटा तहसील जिला सिरमौर में हुआ। वह वर्ष 2003 में हिमाचल प्रदेश विधान सभा में निर्वाचित हुए और दिसम्बर 2007 को पुनः निर्वाचित हुए। वह 9 जुलाईए 2009 से दिसम्बर 2012 तक मुख्य संसदीय सचिव ;मुख्यमंत्री के साथ कृषि एवं पशु पालन विभाग के लिए जुड़े। दिसम्बर 2017 में तेरहवीं विधानसभा में पांवटा विधानसभा क्षेत्र से पुनः निर्वाचित हुए। वह कल्याण समिति के अध्यक्ष रहे।

विशेष रूचिः समाज सेवा

पसंदीदा खेल हाॅकी,कबड्डी, खो.खो, क्रिकेट व ऐथलेटिक्स।

भाषा जानकारीः हिन्दी, अंग्रेजी व उर्दू।

राकेश पठानिया

राकेश पठानिया सपुत्र कर्नल काहन सिंह का जन्म 15 नवम्बर, 1964 को गांव लदोड़ी जिला कांगड़ा में हुआ। इन्होंने वर्ष 1991 में अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की और जिला कांगड़ा के भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के अध्यक्ष रहे। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के राज्य सचिव और भाजपा राज्य कार्यकारिणी के सदस्य रहे। यह वर्ष 1998 में भाजपा के उम्मीदवार के रूप में राज्य विधानसभा के लिए चुने गए और दिसंबर 2007 में फिर से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुने गए। वह वर्ष 1998.2003 तक पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष रहे। दिसंबर 2017 में तेरहवीं विधानसभा के लिए तीसरी बार फिर से राज्य विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए।

लोक प्रशासन समिति के अध्यक्ष और लोक लेखा और नियम ुस्तकालय तथा सुविधा समितियांे के सदस्य रहे।

विशेष रूचिः तैराकी और ऐथलेटिक्स

राजिन्द्र गर्ग

राजिन्द्र गर्ग सुपुत्र  बलदेव सिंह का जन्म 30 मईए 1966 को तंदोड़ा गांव, जिला बिलासपुरए हिमाचल प्रदेश में हुआ।

शिक्षाः एमएससी ;वनस्पति विज्ञान, 1990, जीवाजी विश्वविद्यालय ग्वालियर और हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में से हुई। वह 1982 में स्वयंसेवक बने और 1983 में एबीवीपी से जुड़े। 1986.87 तक एबीवीपी जिला बिलासपुर के संयोजक रहे। 1990.97 तक एबीवीपी के पूर्णकालिक संगठन सचिव ;एमपी, 2000.06 तक दैनिक भास्कर में स्थानीय संवाददाता के रूप में कार्य किया। 2006.10 तक भाजपा प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के संयोजक, 2006.10 तक निदेशक हिमाचल प्रदेश राज्य शिक्षा बोर्ड, 2006.10 सदस्य एचपी तकनीकी शिक्षा बोर्ड, और 2009.11 तक भाजपा राष्ट्रीय प्रशिक्षण सैल के सदस्य और वह दिसंबर, 2017 में 13वीं विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए।

विशेष रुचि सामाजिक कार्य।

पसंदीदा खेल कबड्डी।

भाषा की जानकारी हिंदी और अंग्रेजी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.