धर्मशाला स्मार्ट सिटी में 334 करोड़ रुपये की परियोजनाएं की जा रही कार्यान्वित: सुरेश भारद्वाज

Featured Story Himachal News

शहरी विकास मंत्री ने स्मार्ट सिटी में चल रहे निर्माण कार्यों का किया निरीक्षण

नार्थ गजट न्यूज। धर्मशाला

शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन तथा विधि, संसदीय कार्य एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्धाज ने कहा कि धर्मशाला शहर को और अधिक सुन्दर बनाने के लिए स्मार्ट सिटी के द्वारा 334 करोड़ रुपये की परियोजनाएं कार्यान्वित की जा रही है। सुरेश भारद्वाज आज शुक्रवार को डीआरडीए के सभागार में स्मार्ट सिटी परियोजनाओं की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुये बोल रहे थे। शहरी विकास मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वाकांक्षी स्मार्ट सिटी परियोजना के कार्यों का समयबद्व कार्यन्वयन सुनिश्चित करने के लिये दैनिक आधार पर समीक्षा की जा रही है।

उन्हांेने कहा कि इस परियोजना में प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों की परोक्ष भूमिका है। उन्होंने कहा कि 74 करोड़ रुपये की लागत से अन्य विभागों के साथ कनवरजेंस कर 10 परियाजनाओं पर कार्य पूर्ण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि 41.74 करोड़ रुपये की लागत से रूफटॉप सोलर प्लांट, स्मार्ट क्लासरूम, समावेशी स्मार्ट सड़कों, धर्मशाला स्मार्ट सिटी वेबसाईट, ई-नगरपालिका, जीआईएस वेब पोर्टल, रूटजोन सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तथा भूमिगत डस्टबिन के कार्य पूर्ण किये जा चुके हैं।

शहरी विकास मंत्री ने कहा कि 181 करोड़ रुपये की 28 परियोजनाओं का कार्य प्रगति पर है व 41 करोड़ की 6 परियोजनाओं की निविदाएं आमन्त्रित की गई हैं। जिनका कार्य भी शीघ्र आरम्भ कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि 296 करोड़ रुपये की 12 परियाजनाओं की निविदाएं शीघ्र आमन्त्रित की जाएंगी।

भारद्वाज ने कहा कि 4.86 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली दलाई लामा मंदिर पार्किंग, 9 करोड़ रुपये की लागत से बैरियर फ्री बस शेल्टर का निर्माण कार्य तथा 3.84 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले पर्वतारोहण संस्थान के होस्टल का उन्नयन कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि शहर को सुन्दर बनाने के लिए 24.92 करोड़ रुपये की एलईडी स्ट¦ीट लाईट लगाई जाएंगी जिसके लिए निविदाएं आमंत्रित की जा चुकी हैं। इसके अतिरिक्त 23.64 करोड़ रुपये की लागत से पैदल यात्री अनुकूल सड़कों का कार्य प्रगति पर है।

इसके उपरांत शहरी विकास मंत्री ने धर्मशाला में स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत मैकलोडगंज, भागसूनाग में चल रहे कार्यों का निरीक्षण किया। इसके अतिरिक्त रोप-वे परियोजना का भी निरीक्षण किया। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को इन कार्यों को निर्धारित समय में पूरा करने के निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत सभी कामों को अमलीजामा पहनाया जाएगा ताकि शहर साफ-सुथरा रहे। उन्होंने स्मार्ट सिटी के तहत लंबित कार्यों को समयबद्व पूरा करने के अधिकारियों को निर्देश दिये।

इससे पूर्व आयुक्त नगर निगम एवं एमडी व सीईओ स्मार्ट सिटी प्रदीप ठाकुर ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए स्मार्ट सिटी के तहत कार्यन्वित किये जा रहे विभिन्न कार्यों की विस्तार से जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर धर्मशाला के विधायक विशाल नेहरिया, उप-महापौर ओंकार नेहरिया, निदेशक शहरी विकास राम कुमार गौतम, हिमुडा के अधीक्षण अभियंता सुरिंदर वशिष्ठ अधिशाषी अभियंता संजीवन धीमान, संजीव सैनी, रवि भूषण, पूजा चैहान, हरवंश लाल धीमान, रसिक शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा स्मार्ट सिटी के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।