मुख्यमंत्री ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में 190 करोड़ विकासात्मक परियोजनाएं की आधारशिला रखी एवं लोकार्पण किए

नार्थ गजट न्यूज। बिलासपुर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला बिलासपुर की घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के भराड़ी में इस निर्वाचन क्षेत्र के लिए लगभग 190 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण किए और आधारशिला रखी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य का संतुलित एवं समग्र विकास सुनिश्चित कर रही है और किन्हीं कारणों से विकास से वंचित रह गए क्षेत्रों के विकास पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने 72 लाख रुपये की लागत से निर्मित घुमारवी स्थित लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह के अतिरिक्त भवन का उद्घाटन किया। उन्होंने जल जीवन मिशन के अंतर्गत इस निर्वाचन क्षेत्र के लिए 53.32 करोड़ रुपये की लागत की विभिन्न उठाऊ जल आपूर्ति योजनाओं, घुमारवीं में 21.17 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले मिनी सचिवालय भवन, राजकीय महाविद्यालय घुमारवीं में 6.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले विज्ञान भवन, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (छात्र) घुमारवीं में 4.35 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले बहुद्देश्यीय हाॅल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भराड़ी के लिए 2.51 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले विद्यालय भवन, हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत आपूर्ति लिमिटेड मंडल घुमारवीं के अंतर्गत 33ध्11 केवी उप केन्द्र नसवाल के आवर्धन कार्य के लिए 2.39 करोड़ रुपये और स्वामी विवेकानन्द राजकीय महाविद्यालय घुमारवीं में 1.33 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले ई-लाइब्रेरी हाॅल की आधारशिला रखीं। उन्होंने 4.46 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली नगर परिषद पार्किंग की भी आधारशिला रखी।

जय राम ठाकुर ने 82 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित दधोल लदरौर सड़क वाया भराड़ी मध्यवर्ती मानक में स्तरोन्नयन के लिए भूमि पूजन किया। उन्होंने 5.50 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाली रोहाल खड्ड से घंडालवीं सड़क वाया लेहड़ी सरैल और 2.52 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली मेहरा नैन जलौन पंगवाड़ा तलाई तकरेहरा सड़क का भूमि पूजन भी किया।

मुख्यमंत्री ने कहा किघुमारवीं विधानसभा क्षेत्र को राज्य मंत्रिमंडल में पहली बार प्रतिनिधित्व मिला है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण आज जनसभा अलग परिस्थितियों में हुई है, सभी को सार्वजनिक स्थलों पर फेस मास्क पहनने, सामाजिक दूरी बनाए रखना अनिवार्य हो गया है। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सशक्त नेतृत्व से ही संभव हुआ है कि इस महामारी के दौरान देश की स्थिति अधिकतम विकसित देशों से काफी बेहतर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा समय पर लिए गए निर्णय के कारण भारत में मृत्यु दर विश्व के अन्य देशों की तुलना में बहुत कम है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि देश के लोग प्रधानमंत्री द्वारा लिए गए सभी निर्णयों में उनके साथ मजबूती से खड़े हैं। उन्होंने कहा कि इस महामारी के शुरूआती दौर में देश में पीपीई किट्स उपलब्ध नहीं थी, लेकिन अब देश प्रतिदिन लगभग पांच लाख पीपीई किट्स और फेस मास्क तैयार कर रहा है और अन्य देशों को भी निर्यात कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह केवल प्रधानमंत्री के सशक्त नेतृत्व से ही संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 60 वेंटिलेटर उपलब्ध थे, लेकिन केंद्र सरकार ने प्रदेश को 500 वेंटिलेटर और 500 आॅक्सीलिनेटर्ज उपलब्ध करवाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने पांच दशकों तक प्रदेश का नेतृत्व किया, लेकिन प्रदेश के लिए कुछ भी नहीं किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब राज्य सरकार प्रदेश में कोविड-19 महामारी से लड़ रही थी, कांग्रेस नेता अतिसंवेदनशील मुद्दों पर भी राजनीति कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश सरकार द्वारा बाहरी राज्यों में फसे 2.50 लाख लोगों की प्रदेश वापसी के निर्णय का भी विरोध किया और सरकार पर प्रदेश में कोरोना फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने कांग्रेस आलाकमान के समक्ष 12 करोड़ रुपये का बिल प्रस्तुत किया था, जबकि सरकार ने लोगों को मास्क, सेनेटाइजर, खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने और फसे हुए लोगों की प्रदेश वापसी में 13 करोड़ रुपये व्यय किए। इससे सिद्ध होता है कि कांग्रेस पार्टी अपनी ही पार्टी की छवि को मलिन करने में भी नहीं हिचकिचाती।

जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि राज्य में तैयार की जा रही विकासात्मक परियोजनाएं समय पर पूरी की जा सकंे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत जिले में 176 करोड़ रुपये की सड़क योजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं। राज्य सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि प्रदेश में कोरोना महामारी के कारण विकास की गति प्रभावित न हो। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के समय से भारत एक है का नारा लगाया जा रहा है, लेकिन अनुच्छेद-370 के समाप्त होने पश्चात वास्तव में यह राष्ट्र कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक बन पाया है। उन्होंने कहा कि कई दशकों से राम जन्म भूमि का मुद्दा लंबित पड़ा था, लेकिन केन्द्र सरकार के मजबूत नेतृत्व में अयोध्या में भगवान श्री राम का भव्य मन्दिर निर्मित किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने मंत्रिमंडल की पहली बैठक में बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन का लाभ प्राप्त करने के लिए आयु सीमा को 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष किया, जिससे राज्य के 2.90 लाख वृद्धजन लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि जनमंच और मुख्यमंत्री हेल्पलाइन-1100 राज्य के लोगों की शिकायतों का उनके घरद्वार पर निवारण कर लोगों के लिए वरदान साबित हुई है। जनमंच में लगभग 45 हजार शिकायतों का निवारण और मुख्यमंत्री हेल्पलाइन-1100 में एक लाख से अधिक शिकायतों का निपटारा किया जा चुका है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि अब तक हिमकेयर योजना के अन्तर्गत एक लाख से अधिक लोगों में उपचार के लिए 92 करोड़ रूपये प्रदान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि सहारा योजना के अन्तर्गत गम्भीर बीमारी से ग्रसित मरीजों को प्रति माह तीन हजार रुपये प्रदान किये जा रहे हैं। केन्द्र की उज्ज्वला योजना और राज्य सरकार की हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना से हिमाचल देश का पहला धुआं रहित राज्य बनकर उभरा है। हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत राज्य में 2.80 लाख निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश, विशेषकर बिलासपुर के लोग भाग्यशाली हैं कि प्रदेश के धरती पुत्र जेपी नड्डा आज विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भाजपा का नेतृत्व कर रहे हैं।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने उनके गृह क्षेत्र में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए उन्हें इस विधानसभा क्षेत्र के लिए 190 करोड़ रूपये की विकासात्मक परियोजनाओं को समर्पित करने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र को प्रदेश मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व देने के लिए भी मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि दघोल-लदरौर सड़क के स्तरोन्नयन से क्षेत्र में बेहतर सम्पर्क सुविधा का लाभ मिलेगा।

विधायक बिलासपुर सदर सुभाष ठाकुर ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के लोगों को मुख्यमंत्री द्वारा क्षेत्र के लिए आधारशिला और 13 परियोजनाएं लोकार्पित करने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि बिलासपुर एम्स में इस वर्ष दिसम्बर माह से ओपीडी शुरू हो जायेगी। उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्षों के दौरान बिलासपुर क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है।

विधायक झण्डुत्ता जे.आर. कटवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर प्रदेश में कोरोना महामारी से प्रभावी तरीके से निपट रहे हैं, इसके कारण ही पड़ोसी राज्यों की तुलना में प्रदेश की स्थिति बेहतर है। उन्होंने संक्रमण से बचने के लिए लोगों से परस्पर दूरी सुनिश्चित करने और फेस मास्क का प्रयोग करने का आग्रह किया।

इस अवसर पर घुमारवीं मंडल भाजपा अध्यक्ष सुरेश ठाकुर ने भी मुख्यमन्त्री तथा अन्य उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

इस मौके पर जिला अध्यक्ष स्वतन्त्र सांख्यान, उपायुक्त बिलासपुर रोहित जम्वाल, पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।