स्वास्थ्य मंत्री ने किया आईजीएमसी के कोविड-19 वार्ड का औचक निरीक्षण


नार्थ गजट न्यूज। शिमला

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने आज इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान महाविद्यालय एवं चिकित्सालय, शिमला के ई-ब्लाॅक में स्थापित कोविड-19 वार्ड का औचक निरीक्षण कर संक्रमित मरीजों के लिए किए गए प्रबंधों का जायजा लिया।

उन्होंने ड्यूटी पर तैनात वरिष्ठ चिकित्सकों से बातचीत कर कोविड-19 वार्ड में मरीजों की देखभाल, भोजन तथा स्वच्छता व्यवस्था की भी जानकारी ली।

आईजीएमसी के प्रधानाचार्य डा. रजनीश पठानिया और चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. जनक राज ने स्वास्थ्य मंत्री को अस्पताल में स्थापित किए गए नियंत्रण कक्ष के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस ब्लाॅक की हर मंजिल में कोरोना मरीजों के लिए वीडियो काॅलिंग की व्यवस्था की गई है ताकि वे अपने परिजनों से बातचीत कर सकें।

डाॅ. सैजल ने आईजीएमसी के स्टाफ से बातचीत के दौरान कहा कि अस्पताल में आ रही किसी भी समस्या का तुरन्त प्रभाव से निवारण किया जाएगा। उन्होंने यहां निर्मित होने वाले 40 व 17 बिस्तरों वाले मैक शिफ्ट अस्पताल के स्थल का भी निरीक्षण किया तथा कार्य प्रगति के संबंध में जानकारी ली।

स्वास्थ्य मंत्री ने बाद में अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की जिसमें अस्पताल की समस्याओं के स्थानीय स्तर पर निवारण पर चर्चा की गई। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अस्पताल में आ रही किसी भी समस्या के बारे में जल्द से जल्द उन्हें अवगत करवाएं ताकि तुरन्त प्रभाव से उसका समाधान किया जा सके। संयुक्त निदेशक अस्पताल प्रशासन रवीन्द्र शर्मा, नोडल अधिकारी डाॅ. राहुल गुप्ता भी इस अवसर पर उपस्थित थे।