पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कंगना रणौत की सुरक्षा पर चिंता प्रकट की

कहा,महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के नाते उद्वव ठाकरे कंगना रणौत को पूरी सुरक्षा दें

राजेश व्यास। पालमपुर

भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं हिमाचल प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री,शांता कुमार ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्वव ठाकरे को पत्र लिख कर कंगना रणौत की सुरक्षा पर बहुत अधिक चिन्ता प्रकट की है। उन्होंने लिखा है कि मूवी जगत मेे हिमाचल की इस बहादुर लड़की ने ही राष्ट्रवाद का बड़े साहस से समर्थन करते हुए कहा था – ”हां है मेरा एजेण्डा राष्ट्रवाद-राष्ट्रवाद-राष्ट्रवाद।“ उन्होंने कहा कि शिव सेना एक मात्र ऐसी पार्टी है जो भाजपा के बाद राष्ट्रवाद का समर्थन करती है। इस दृष्टि से कंगना रणौत को शिव सेना की ओर से बहुत अधिक सहयोग मिलना चाहिए।

उन्होंने कहा कि सुशांत राजपूत की आत्महत्या और उसके बाद उजागर होते तथ्यों से पूरा देश सहम गया है। मुम्बई के सिनेमा जगत में और भी बहुत कुछ ऐसा होता रहता है, जिस पर बड़े साहस के साथ कंगना रणौत ने अपनी बात कही है। आजाद भारत में हर नागरिक को अपनी बात कहने का संवैधानिक अधिकार है।

शान्ता कुमार ने कहा कि कंगना रणौत की कुछ टिप्पणियों पर शिव सेना के नेताओं द्वारा धमकियां दी जा रही है। इससे कंगना रणौत का पूरा परिवार और पूरे हिमाचल में बहुत अधिक चिन्ता प्रकट की जा रही है। मुख्यमंत्री के नाते उद्वव ठाकरे कंगना रणौत को पूरी सुरक्षा दें और शिव सेना के नेताओं को रोकें।

उन्होने कहा कि लोक सभा के पूर्व अध्यक्ष मनोहर जोशी उनके पुराने परिचित है। उन्होंने उन्हें भी पत्र लिख कर कंगना रणौत को मुम्बई में पूरी सुरक्षा देने का आग्रह किया है।शान्ता कुमार ने कंगना रणौत और उनके परिवार से फोन पर विस्तृत बात की है और उन्हें यह सलाह दी है कि अब कंगना रणौत इस विवाद में अधिक न उलझे। उन्होंने हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी से भी आग्रह किया है कि वे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्वव ठाकरे जी से इस सम्बंध में तुरन्त बात करें।