100 करोड़ से बनेगा स्मार्ट सिटी इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर : किशन कपूर

कपूर बोले 20 करोड़ से शहर के लिये 15 इलैक्ट्रिक बसें खरीदी जा रही हैं

नार्थ गजट न्यूज। धर्मशाला

सांसद किशन कपूर ने कहा कि कहा कि धर्मशाला को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के लिए आम जनमानस की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि धर्मशाला स्मार्ट सिटी में 100 करोड़़ रुपये की लागत से इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर बनने जा रहा है। जिसकी सैद्धातिंक मंजूरी मिल चुकी है तथा इसकी डीपीआर बनाई जा रही है। किशन कपूर आज सोमवार को डीआरडीए के सभागार में स्मार्ट सिटी एडवाईजरी फोरम की बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि 20 करोड़ रुपये की लागत से एचआरटीसी के माध्यम से शहर के लिये 15 इलैक्ट्रिक बसें खरीदी जा रही हैं और शहर में विभिन्न स्थानों पर 10 चार्जिंग स्टेशन भी स्थापित किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन बसों के आने से शहर में पर्यावरण संरक्षण में भी मदद मिलेगी और शहर को आधुनिक परिवहन सुविधा प्राप्त होगी।
किशन कपूर ने कहा कि स्मार्ट सिटी द्वारा 5 समावेशी रोड बनाए जा रहे हैं जिनमें कैमल ट्रैक, भागसूनाग से लेकर धर्मकोट, एमसी कार्यालय से गैस एजेंसी, बीएसएनएल कार्यालय से कैंची मोड, अप्पर धर्मकोट से लोअर धर्मकोट रोड बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन पर 7 करोड़ रुपये व्यय होंगे।
कपूर ने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत पार्किग की समस्या से निपटने के लिये पहलेे एक पार्किग दलाईलामा मन्दिर के साथ बनी थी। उसे अब और बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पार्किग निर्माण में जो कमियां है उन्हें दूर किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त स्मार्ट सिटी के तहत हिलन घर, बस अड्डा के पास भी पार्किग का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जहां भी जगह होगी वहां पर पार्किंग स्थल विकसित किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि शहर में 7 हजार स्ट्रीट लाईटस लगाई जाएंगीं और 33 हजार स्मार्ट मीटर भी लगाये जायेंगे। उन्होंने नड्डी के पास सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस प्लांट में 5 टीपीडी क्षमता का वेस्ट से ऊर्जा बनाने का प्लांट भी लगाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इन कार्यों पर 100 करोड़ रुपये व्यय किये जायेंगे।
उन्होंने कहा बस अड्डा धर्मशाला से स्कूल शिक्षा बोर्ड तक 35 करोड़ रुपये की लागत से तीन किलोमीटर लम्बा स्मार्ट रोड बनाया जायेगा।
उन्होंने कहा कि शहर में घर-घर कूड़ा एकत्रीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि शहर में विभिन्न स्थानों पर सीढि़यों और अन्य रास्तों, दलाई लामा मन्दिर और पर्वतारोहण संस्थान के समीप स्थित पार्किंग के कार्य के उन्नयन का कार्य भी शीघ्र आरंभ कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि स्मार्ट बस शेल्टरों के निर्माण और पुराने बस शेल्टरों की मरम्मत का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि इन कार्यों पर 42 करोड़ रुपये व्यय किये जा रहे हैं।
इस अवसर पर विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारियों ने शहर को सुन्दर बनाने के लिये अपने बहुमूल्य सुझाव दिये। कपूर ने कहा कि उनके सुझावों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार कर अमल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत सभी कामों का अमलीजामा पहनाया जाएगा ताकि शहर साफ-सुथरा रहे। उन्होंने स्मार्ट सिटी के तहत लंबित कार्यों को समयबद्व पूरा करने के अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत विभिन्न कार्यों के बेहतर कार्यन्वयन के लिये कार्यकारी अधिकारी प्रदीप ठाकुर व उनके सहयोगी बधाई के पात्र हैं।

इससे पूर्व कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी प्रदीप ठाकुर ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए स्मार्ट सिटी के तहत कार्यन्वित किये जा रहे विभिन्न कार्यों की विस्तार से जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर सरकारी तथा गैर सरकारी सदस्यों ने भी स्मार्ट सिटी के विकास के लिए अपने अपने सुझाव दिए।
इस अवसर पर विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा गैर सरकारी सदस्य मौजूद थे।