हिमाचल विकास के मामले में देश का आदर्श राज्य बनने की ओर अग्रसर : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रदेश भाजपा कार्यकारी समिति की सेमी-वर्चुअल बैठक को संबोधित किया

नार्थ गजट न्यूज। शिमला

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता को केंद्र व प्रदेश सरकारों द्वारा आरम्भ की गई विभिन्न विकासात्मक और कल्याणकारी योजनाओं के बारे में लोगों को जागरूक करना चाहिए। वह आज यहां से प्रदेश भाजपा कार्यकारी समिति की सेमी-वर्चुअल बैठक को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कंेद्र व राज्य सरकारों ने समाज के प्रत्येक वर्ग के सामाजिक एवं आर्थिक उत्थान और हिमाचल के प्रत्येक क्षेत्र के विकास के लिए अनेक योजनाएं आरम्भ की है और पार्टी कार्यकर्ताओं को विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से उचित संपर्क रखना चाहिए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार के डबल ईंजन से हिमाचल प्रदेश विकास के मामले में देश का आदर्श राज्य बनने की ओर अग्रसर है। राज्य में उन लोगों को स्वास्थ्य बीमा प्रदान करने के लिए हिमकेयर योजना शुरू की गई है, जो केंद्र की आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठाने से वंचित रहे। अभी तक लगभग एक लाख लोगों को इस योजना के अंतर्गत 91.43 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि गंभीर रूप से बीमार रोगियों के परिवार को तीन हजार रुपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता दी जा रही है। अभी तक 9078 लाभार्थियों को 5.90 करोड़ रुपये के लाभ प्रदान किए जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने केंद्र की उज्ज्वला योजना के अंतर्गत शामिल नहीं होने वाले लोगों के लिए हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना आरम्भ की है और हिमाचल प्रदेश देश का पहला धुआं रहित राज्य बन गया है। अभी तक पात्र परिवारों को 2.78 लाख मुफ्त गैस कनेक्शन वितरित किए जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त 1.36 लाख परिवारों को उज्ज्वला योजना के अंतर्गत कवर किया गया है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपनी पहली ही मंत्रिमंडल की बैठक में बिना आयसीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने के लिए आयु सीमा 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष की, जिससे 2.85 लाख वरिष्ठजन लाभान्वित हुए हैं। प्रदेश के विभिन्न हिस्सांे में 181 जनमंच कार्यक्रम आयोजित किए जा चुके हैं, जिनमें 45 हजार शिकायतें प्राप्त हुई और 91 प्रतिशत से अधिक शिकायतों का निपटारा मौके पर ही किया गया, जबकि बाकी शिकायतों को तत्काल संबंधित विभागों को भेजा गया, ताकि इनका समयबद्ध समाधान किया जा सके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन-1100 से नागरिकों की समस्याओं का निपटारा उनके घर-द्वार पर किया जा रहा है और इससे सरकार व लोगों के बीच सामंजस्य भी बढ़ा है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री जन धन योजना के अंतर्गत 5.90 लाख महिलाओं के बैंक खातों में 500 रुपये प्रतिमाह की सीधी वित्तीय सहायता प्रदान की गई, जबकि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत 8.74 लाख किसानांे के बैंक खातों में दो हजार रुपये प्रतिमाह जमा किए गए। प्रदेश सरकार ने कोविड-19 के कारण जारी लाॅकडाउन के मद्देनजर पात्र लोगों को तीन माह की अग्रिम सामाजिक सुरक्षा भी प्रदान की है। भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड से पंजीकृत 1.37 लाख कामगारांे के बैंक खातों में चार-चार हजार रुपये हस्तांतरित किए गए हैं। इसके अतिरिक्त कोविड-19 महामारी के दौरान बहुमूल्य सेवाएं प्रदान करने के लिए आशा कार्यकर्ताओं के बैंक खातों में जुलाई व अगस्त महीनों के लिए अतिरिक्त एक हजार रुपये की राशि हस्तांतरित की गई है।

मुख्यमंत्री ने लाॅकडाउन के दौरान लगभग पांच हजार लोगों को भोजन उपलब्ध करवाने तथा 50 लाख से अधिक मास्क वितरित करने के लिए प्रदेश भाजपा कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया। उन्होंने राज्य में भाजपा के आधार को और मजबूत बनाने तथा वर्ष 2022 के विधानसभा चुनावों में भाजपा को पुनः बहुमत में लाने के लिए समर्पण की भावना से कार्य करने का भी आग्रह किया।

प्रदेश भाजपा महासचिव त्रिलोक कपूर ने धन्यवाद प्रस्ताव रखा।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप, शहरी विकास मन्त्री सुरेश भारद्वाज, जनजातीय विकास मन्त्री डाॅ. रामलाल मारकंडा, प्रदेश भाजपा संगठन सचिव पवन राणा, महासचिव राकेश जम्वाल, महासचिव एवं मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल और शिमला भाजपा के अन्य नेता इस अवसर पर उपस्थित थे। पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार एवं प्रेम कुमार धूमल और केंद्रीय वित्त एवं काॅरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर सहित अन्य नेताओं ने अपने-अपने स्थानों से इस बैठक में आॅनलाइन हिस्सा लिया।