मेधावी बेटियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की मिलेगी निशुल्क कोचिंग  

दो अगस्त को आयोजित होगा आनलाइन स्क्रीनिंग टेस्ट

नार्थ गजट न्यूज। धर्मशाला

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान के तहत मेधावी बेटियों को जिला प्रशासन की ओर से आईआईटी, जेईई और नीट प्रतियोगी परीक्षाओं के दो वर्श की निशुल्क कोचिंग सुविधा प्रदान की जाएगी।

यह जानकारी एडीसी राघव शर्मा ने बुधवार को डीआरडीए सभागार में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान के तहत जिजिविषा कार्यक्रम आरंभ किया है तथा उसी के तहत बेटियों को निशुल्क कोचिंग देने का प्रावधान भी किया गया है। इस के लिए दो अगस्त 2020 को आनलाइन स्क्रीनिंग टेस्ट आयोजित किया जाएगा। जिसमें 26 मेधावी छात्राओं को कोचिंग के लिए सिलेक्ट किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि दस जमा एक विज्ञान संकाय में सरकारी सीनियर सेकेंडरी में अध्ययनरत छात्राएं आनलाइन स्क्रीनिंग के लिए आवेदन कर सकती है इस के लिए संबंधित स्कूल प्रबंधन या उपनिदेशक शिक्षा विभाग के कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है। इसके साथ ही आनलाइन स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए आवेदन संबंधित जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर 8774455000, 8264340139 पर संपर्क कर सकते हैं।

अतिरिक्त उपायुक्त राघव शर्मा ने कहा कि कांगड़ा जिला में लिंगानुपात में सुधार के लिए आरंभ किए गए जिजिविषा कार्यक्रम का भी सुचारू कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाए इसमें सभी पंचायतों में हमारे गांव की बेटी हमारी षान के तहत सराहनीय उपलब्धि हासिल करने वाली बेटियों के फ्लेक्स पंचायतों में स्थापित किए जाएं इसके साथ ही खंड स्तर पर बेहतरीन कार्य करने वाली बेटियों को ब्लाक एंबेसडर भी बनाया जाए ताकि समाज को प्रेरणा मिल सके। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी वर्कर्स तथा स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के माध्यम से लोगों को बेटा बेटी एक समान का संदेश लोगों तक पहुंचाने के लिए भी कार्य करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या पर पूर्णतय अंकुश लगाने के लिए भी सख्त कदम उठाए जाएंगे तथा कन्या भ्रूण हत्या के बारे में जानकारी देने वाले नागरिकों को जिला प्रशसन की ओर से बीस हजार की नगद राशि का इनाम दिया जाएगा, सूचना देने वाले की पहचान पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाएगी इस बारे में सीएमओ कांगड़ा को सूचना दे सकते हैं।
इससे पहले डीपीओ रणजीत सिंह ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत कांगड़ा जिला में चल रहे विभिन्न प्रकल्पों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गई। इस अवसर पर सीएमओ गुरदर्शन सहित महिला, विकास विभाग के विभिन्न अधिकारी तथा गैर सरकारी सदस्य भी उपस्थित थे।