Lockdown 3 : ग्रीन जोन में चल सकेंगी बसें, शराब की दुकानें भी खुलेंगी

नार्थ गजट न्यूज।

ग्रीन जोन में शराब की दुकानें खोलने और आनलाईन शापिंग की भी इजाजत

मोदी सरकार ने Lockdwon 3 में ग्रीन जोन ( Green Zones) में बसें  केवल 50 प्रतिशत कैपेसिटी के साथ चलाने की अनुमति दे दी है। लेकिन यह केवल जिलों के भीतर तक ही सीमित होगा और एक से दूसरेे जिलों तक बसें नहीं चल सकेंगी। Coronavirus के खात्मे के लिए घोषित किए Lockdwon 3 को 17 मई तक बढ़ाया गया है। इस दौरान सभी स्कूल , कालेज व अन्य शिक्षण बंद रहेंगे।Lockdown 3 में देश को तीन भागों में बांटा गया है जिसमें Red zone, Orange zone और Green zone शामिल हैं।लेकिन Lockdown 3 की इन शर्तों को सोमवार से ही प्रभावी माना जाएगा। रेड जोन में लाकडाउन के नियमों को और भी सख्त कर दिया गया है। सार्वजनिक स्थानों पर सभी जोन में मास्क पहनना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही सभी शहरों में शापिंग माल पहले की ही तरह बंद रहेंगे। सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर जुर्माना लगेगाा। देश में 319 जिले ग्रीन जोन में शामिल हैं।  पूरे देश में लाकडाउन के दौरान शापिंग माल, जिम, सैलून बंद रहेंगे। रेड जोन में सभी लोगों आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड करना अनिवार्य रहेगा। इसके साथ ही सरकार ने ग्रीन और आरेंज जोन में आनलाईन शापिंग करने की छूट दे दी है।

ग्रीन जोन में शराब की दुकानें खोलने की इजाजत
Lockdown 3 में जहां शराब की दुकानें खुलेंगी वहां 6 फीट की दूरी दो व्यक्तियों के बीच बनाए रखना अनिवार्य रहेगा और एक बार केवल पांच ग्राहक ही जा सकेंगे। कई राज्य सरकारे रेवेन्यू बढ़ाने के लिए शराब की दुकानें खोलनें की अनुमति देने की मांग कर रहीं थी। पंजाब सरकार भी बड़े जोर के साथ शराब की दुकानों को खोलने की मांग कर रही थी।केवल ग्रीन जोन में ही यह अनुमति रहेगी। हिमाचल प्रदेश के 6 जिलों को ऑरेंज और छह को ग्रीन जोन में बांटा गया है.  जारी लिस्ट के अनुसार ऊना, चंबा, हमीरपुर, कांगड़ा, सिरमौर, सोलन को ऑरेंज जोन में रखा गया है जबकि बिलासपुर, किन्नौर, कुल्लू, लाहौल-स्पीति, शिमला और जिला मंडी को ग्रीन जोन में रखा गया है।

Health Ministry  के अनुसार, देश में रेड जोन के तहत 130 जिले, ऑरेंज जोन के तहत 284 जिले और ग्रीन जोन के तहत 319 जिलों को रखा गया है। हर सप्‍ताह इसका आकलन किया जाएगा और संक्रमित मामलों के अनुसार जोन में बदलाव होगा। सरकार ने  Lockdown में फंसे हुए छात्रों, प्रवासी श्रमिकों, पर्यटकों, तीर्थयात्रियों आदि को स्‍पेशल ट्रेन से आवाजाही की अनुमति दी है। इसके तहत आज छह स्‍पेशल ट्रेन चलाने की अनुमति दी गई है। आगे भी रेल मंत्रालय और राज्‍यों के अनुरोध पर एक स्‍थान से दूसरे स्‍थान के लिए ट्रेन चलाई जा सकती है लेकिन सामान्‍य तौर पर ट्रेनों की आवाजाही बंद रहेगी। ऑरेंज ज़ोन में टैक्सी और कैब एग्रीगेटर्स को एक गाड़ी में केवल 1 ड्राइवर और 1 यात्री की अनुमति दी जाएगी। ऑरेंज ज़ोन में व्यक्तियों और वाहनों के अंतर-जिला आवागमन को केवल कुछ गतिविधियों के लिए अनुमति दी जाएगी। चौपहिया वाहनों में ड्राइवर के अलावा अधिकतम 2 यात्री होंगे। Lockdwon 3 में रेड जोन में बड़ी संख्या में अन्य गतिविधियों की अनुमति होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक और निर्माण गतिविधियाँ, जिनमें मनरेगा कार्य, खाद्य प्रसंस्करण इकाइयाँ और ईंट-भट्टे शामिल हैं, इनको अनुमति दी गई है।