देश जिन परिस्थितियों में गुजर रहा है वह चिंता का विषय : राठौर

नार्थ गजट न्यूज।शिमला

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने केंद्र की मोदी सरकार से विश्वापी कोरोना माहमारी में प्रवासी मजदूरों की दयनीय हालत पर देश के लोगों से माफी मांगने को कहा है।उन्होंने कहा है कि आज जो भी दुखदर्द यह प्रवासी झेल रहे है इसकी जिम्मेदारी से केंद्र सरकार बच नही सकती।

राठौर ने आज यहां एक बयान में राहुल गांधी के उस वीडियो का हवाला देते हुए कहा है कि कांग्रेस इन लोगों के दुखदर्द को दूर करने का पूरा प्रयास कर रही है जबकि भाजपा इसमें अपनी राजनीति कर इन राहत कार्यों में रोड़ा अटकाने का पूरा प्रयास कर रही है।उन्होंने कहा है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने जब इन मजदूरों के लिए बसों का इंतजाम किया तो उसे भी रोक दिया गया।उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उन्होंने अपने ही प्रदेश के उन मजदूरों को उनकी बेबसी पर ही छोड़ दिया जो अपने घर आना चाह रहें है।

राठौर ने कहा है कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ,राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा ने इन प्रवासी मजदूरों की पीड़ा को इनके बीच जा कर देखा है,जबकि भाजपा के नेता कही भी इनकी मदद को आगे नजर नही आ रहें है।उन्होंने कहा है कि देश के गृह मंत्री का तो इन प्रवासी मजदूरों के दुखदर्द पर एक भी ऐसा बयान तक नही आया है,जिससे लगें की सरकार को इनकी कोई चिन्ता है।देश के श्रम व रोजगार मंत्री भी कही कोपभवन में बैठे है।

राठौर ने कहा है कि आज देश जिन परिस्थितियों से गुजर रहा है,वह चिन्ता का विषय है।देश मे कोरोना के मामलों का बढ़ना भी चिन्ता का विषय है।उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री का देश को बीस लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज अर्थशास्त्री भी समझ नहीं पा रहें है।देश की वित्त मंत्री बार बार प्रेस कांफ्रेंस में इसे असफल समझाने का प्रयास कर रही है।उन्होंने कहा है कि इस पैकेज में घोषणाएं तो बहुत की गई है पर यह कैसे पूरी होगी यह सब समझ से परे है। उन्होंने कहा है कि जब कांग्रेस इन सब बातों पर सवाल उठा रही है तो उसे इस पर राजनीति नजर आ रही है।उन्होंने कहा है कि कांग्रेस की राजनीति लोगों की सेवा की होती है।