भाजपा अध्यक्ष राजीव बिंदल ने नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दिया

नार्थ गजट न्यूज। शिमला

देवभूमि हिमाचल प्रदेश में एक ऑडियो विवाद मामले ने भाजपा की सियासत में एक भूचाल ला दिया है। इसी घटनाक्रम में बुधवार को हिमाचल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राजीव बिंदल ने नैतिकता के आधार अपने पद से इस्तीफा दे दिया। राज्य के पूर्व स्वास्थ्य निदेशक डाॅक्टर एके गुप्ता के लाखों के लेन-देन वाले आडियो मामले पर उठे विवाद की वजह से राजीव बिंदल ने यह कदम उठाया है। गौरतलब है कि बिंदल ने चार माह पहले ही विधानसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देते हुए हिमाचल भाजपा की बागडोर संभाली थी। उन्होंने अपना इस्तीफा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को भेजा। बिंदल ने कहा है कि नैतिक आधार पर उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दिया है, ताकि ऑडियो सीडी के कथित भ्रष्टाचार के मामले की बिना किसी राजनीतिक दवाब के निष्पक्ष जांच हो।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखे पत्र में बिंदल ने कहा है कि पूर्व स्वास्थ्य निदेशक को गिरफ्तार कर विजिलेंस ऑडियो सीडी मामले की जांच कर रही है। इस प्रकरण को लेकर भाजपा पर भी उंगलियां उठाई जा रही हैं। उन्होंने पत्र में लिखा है कि लेन-देन वाले ऑडियो मामले का भाजपा के साथ कोई ताल्लुक नहीं है। इसे भाजपा से जोड़ना अन्याय है और कोरोना महामारी के दौरान भाजपा द्वारा किए गए समाज सेवा का अपमान है।

बता दें कि हिमाचल विजिलेंस ने 20 मई की रात को तत्कालीन स्वास्थ्य निदेशक डाॅक्टर एके गुप्ता को गिरफ्तार किया था। विजिलेंस ने यह कार्रवाई लेन-देन से जुड़ी एक ऑडियो सीडी के वायरल होनेे के बाद की थी। इस 43 सेकेण्ड के वायरल हुए ऑडियो में तत्कालीन स्वास्थ्य निदेशक डाॅक्टर गुप्ता एक शख्स के साथ बात करते हुए 5 लाख रुपये की मांग कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि लेन-देन का यह मामला कोरोना आपदा में पीपीई किट की खरीद-फरोख्त से जुड़ा है। विजिलेंस ने इस मामले में स्वास्थ्य निदेशक के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अनियिम के तहतं मुकदमा दर्ज किया है। राज्य सरकार ने डाॅक्टर गुप्ता को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था। यह भी आरोप लगे हैं कि वायरल ऑडियो में पूर्व स्वास्थ्य निदेशक जिस शख्स के साथ लेन-देन की बात कर रहे हैं, वह भाजपा के एक बड़े नेता के करीबी हैं। बताया जा रहा है कि इस प्रकरण में भाजपा के ही एक नेता ने आलाकमान और प्रधानमंत्री कार्यालय को भी लिखित शिकायत भेजी थी और इसके साथ ही कांग्रेस भी इस मुददे को लेकर भाजपा सरकार पर कई तरह के आरोप लगा रही है।

यहां देखें डाक्टर राजीव बिंदल के अध्यक्ष पद से इस्तीफे की प्रति…….