विफलताओं को छिपाने के लिए सरकार कर रही तबादले : राठौर

नार्थ गजट न्यूज

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया है कि वह अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए एकाएक कर्मचारियों और अधिकारियों को ट्रांसफर कर उन्हें प्रताड़ित करने लगीं है।उन्होंने कहा है कि प्रदेश में कोविड 19 के मामले बढ़ने से साफ है कि सरकार की अपनी व्यवस्था में भारी कमी है वह सही ढंग से बाहर से आने वाले लोगों की कोरोना जांच नही कर पा रही है।
राठौर ने कहा है कि प्रदेश में क्वारन्टीन की धज्जियां उड़ाई जा रही है।इसमें इन्ही के नेताओं का हाथ है।उन्होंने घुमारवीं में एक पुलिस कर्मी के तबादले पर हैरानी जताई कि कथित तौर पर अगर एक नेता के बेटे को मास्क पहनने के लिए कहने पर सजा मिली है तो बहुत ही दुखदाई है।उन्होंने कहा है कि भाजपा के नेता जिस प्रकार से नियमों व कानून की धज्जियां उड़ा रहें है उससे साफ है कि यह नेता अपने को कानून से ऊपर ही समझ बैठे है।

राठौर ने आईजीएमसी के प्रिंसिपल डॉ.मुकंद कांगड़ा ,हमीरपुर और चम्बा जिलों के चार एसडीएम, अधिकारियों के तबादलों को भी पूरी तरह राजनीति से प्रेरित बताया है।उन्होंने कहा है कि कोरोना की रोक के लिए जो अधिकारी क्वारन्टीन का कड़ाई से पालन करवा रहे है उन्हें उनको तबादले का ईनाम दिया जा रहा है,जो दुर्भाग्यपूर्ण है।उन्होंने सरकार से अपनी किसी भी प्रतिशोध की राजनीति छोड़ कर जन कल्याण की ओर ध्यान देने की बहुत आवश्यकता है।

राठौर ने बसों के किराया बढ़ाने के सरकार के किसी भी प्रस्ताव को पूरी तरह गैर जिम्मेदाराना बताते हुए कहा है कि कांग्रेस कभी भी कोरोना माहमारी के नाम पर लोगों को लूटने नही देंगी।उन्होंने कहा की आज अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के मूल्यों में भारी कमी के बाबजूद प्रदेश सरकार ने इसके मूल्यों में कोई कमी नही की।सरकार ने इस पर वेट बढ़ाकर अपना खजाना भरने में लगी है।उन्होंने कहा है कि सरकार के ऐसे किसी भी जन विरोधी फैंसले के खिलाफ कांग्रेस लोगों के साथ किसी भी स्तर पर अन्यान्य के विरुद्ध लड़ाई लड़ने को तैयार है।उन्होंने कहा है कि इस समय लोगों को राहतों की उम्मीद है न कि किसी आर्थिक बोझ की।