अकेले कांगड़ा जिला से ही कोरोना के आठ नए मामले

सात नागरिक दिल्ली से आए थे वापिस, एक मुम्बई से

 

नार्थ गजट न्यूज। धर्मशाला

कांगड़ा जिला में आज रविवार को कोविड-19 के 8 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। इनमें से सात दिल्ली से वापिस आए थे जबकि एक बच्ची मुम्बई से वापिस आई थी। इनमें से धर्मशाला उपमंडल के दाड़ी से एक, शाहपुर उपमंडल के सन्दू से दो, उपमंडल नूरपुर के कुल्हन से दो, नूरपुर उपमंडल के मिझगा्रं से एक, ज्वालामुखी उपमंडल के बाड़ी खुन्डियां से एक तथा एक उपमंडल बैजनाथ के डढ़ोल से सम्बन्धित है। दिल्ली से आए कोविड-19 के सात पॉजिटिव नागरिकों को कोविड केयर सेंटर बैजनाथ में शिफ्ट कर दिया गया है। जबकि उपमंडल बैजनाथ के डढो़ल से सम्बन्धित बच्ची को डाढ़ शिफ्ट किया गया है। इस बच्ची की मां पहले ही कोरोना संक्रमित पाई गई है तथा उसका इलाज भी डाढ़ कोविड सेंन्टर में चल रहा है। इस तरह जिला में कोरोना पॉजिटिव के अब तक कुल 87 मामले सामने आ चुके हैं तथा इनमें से 58 एक्टिव केस हैं जबकि 28 पॉजिटिव नागरिक स्वस्थ हो चुके हैं तथा एक की मृत्यु हो चुकी है।

उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि ने कहा कि पूरी दुनिया आज कोरोना जैसी वैश्विक महामारी की चुनौतियों से जुझ रही है तथा इस दौर में हमारी जरा सी लापरवाही हमारे बच्चों, परिवार के सदस्यों तथा समाज के लिए घातक हो सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की अभी तक कोई दवाई नहीं बनी है। उन्होंने कहा कि यह हम सभी का कर्तव्य बनता है कि हम सामाजिक दूरी की अनुपालना सुनिश्चित करें ताकि कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

राकेश प्रजापति कहा कि अपने घरों में रहें, सुरक्षित रहें, अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के निर्देशानुसार संक्रमण रोकने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप डाउनलोड करें। घर में बुजुर्गों विशेषकर बीमारों का ध्यान रखें, कोरोना योद्वाओं डाक्टरों पुलिस कर्मियों सभी का सम्मान करें। उन्होंने कहा कि परिवार या गांव में कोई भी बाहरी क्षेत्रों से कोई भी व्यक्ति आता है तो इसकी सूचना तुरन्त प्रशासन को दें। खांसी, बुखार इत्यादि के लक्षण दिखने पर फ्लु कार्नर पर चेकअप अवश्य करवाएं। उन्होंने कहा कि स्वस्थ रहने के लिए योग अवश्य करें तथा पौष्टिक आहार जरूर लें इससे इम्यूनिटी मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के नियमों को अब हमें अपनी आदतों में शामिल करना होगा और स्वयं अपनी तथा समाज की सुरक्षा के लिए सभी नागरिकों को जागरूक और सजग रहना होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रशासन के साथ साथ आम जनमानस की भागीदारी भी जरूरी है।