हिमाचल में 20 नए कोरोना मरीज, दो की मौत

कुल मिलाकर अभी तक 223 कोरोना मरीजों को पुष्टि हो चुकी है

नार्थ गजट न्यूज।

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमितों के बढ़ने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को भी हिमाचल में कोरोना संक्रमितों के 20 नए मामले सामने आए। कुल मिलाकर अभी तक 223 कोरोना मरीजों को पुष्टि हो चुकी है। सोमवार को सामने आए नए मामलों में शिमला जिला में कोरोना के 4 मामले सामने आए हैं। इनमें 3 मामले चौपाल से और एक मामला कोटखाई तहसील से आया है। इसी तरह बिलासपुर जिला में तीन कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। इनमें से दो व्यक्ति मुंबई से हाल ही में हिमाचल वापिस आए हैं जबकि तीसरा व्यक्ति दिल्ली से लौटा है। इनमें से दो व्यक्तियों को संस्थागत क्वारटाईंन में रखा गया था जबकि तीसरा व्यक्ति होम क्वारटाईंन में था।

चंबा जिला में भी 4 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि 

चंबा जिला में आज 4 कोरोना पाजिटिव मामले सामने आए हैं। यह चारों लोग चंबा जिला के चुराह विधानसभा क्षेत्र के हैं जो तमिलनाडु से चेन्नई की ट्रेन के जरिये चंबा पहुंचे थे। इन्हें संस्थागत क्वारंटाइन में रखा गया था।इनमें से दो लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन डाइट सरू में तथा दो लोगों को कस्तूरबा गांधी होस्टल तीसा में रखा गया था। जिला स्वास्थ्य अधिकारी चंबा डाक्टर गुरमीत कटोच के अनुसार चारों लोगों को कोविड केयर सैंटर आयुर्वेदिक अस्पताल चंबा में शिफ्ट किया गया है।

कांगड़ा जिला में कोरोना पॉजिटिव के 8 नए मामले

सोमवार को कांगड़ा जिला में कोरोना पॉजिटिव के 8 नए मामले सामने आए हैं। इनमें नूरपुर से एक महिला व उसका बच्चा भी शामिल है। इसके अलावा चार नागरिक जो मुंबई से और दो नागरिक अहमदाबाद से वापिस आए थे। इनमें दौलतपुर का एक, जयसिंहपुर के दो, पुढवा का एक तथा डाढ के दो नागरिकों के टेस्ट पॉजिटिव आए हैं। कोरोना पॉजिटिव दो नागरिकों को कोविड अस्पताल धर्मशाला शिफ्ट किया गया है जबकि अन्य कोविड पॉजिटिव नागरिकों को कोविड केयर सेंटर डाढ में शिफ्ट किया गया है। इसके साथ ही कोविड केयर सेंटर बैजनाथ में उपचाराधीन कोविड पॉजिटिव के चार नागरिकों के सेंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है घुरकड़ी, ककरेन, गोलवां तथा जौंटा से संबंधित एक-एक नागरिक शमिल हैं।

किडनी की बीमारी से पीड़ित महिला का नेरचैक अस्पताल में निधन

किडनी की बीमारी से पीड़ित बल्ह उपमंडल की कोरोना संक्रमित एक 65 वर्षीय महिला का आज श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नेरचैक में निधन हो गया । वे 19 मई से नेरचैक अस्पताल में उपचाराधीन थीं। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉक्टर जीवानंद चैहान ने दी।
उन्होंने बताया कि बल्ह उपमंडल के नेरचैक के रत्ती की रहने वाली उक्त महिला किडनी की बीमारी सहित कुछ अन्य स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों से जूझ रही थीं। 20 मई को उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। 19 मई को ही इस महिला का कोरोना संक्रमण को लेकर टेस्ट किया गया था जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। यह महिला अन्य रोगों से भी ग्रसित थीं। उन्होंने कहा कि सोमवार को दोपहर बाद अचानक उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई जिसके बाद उन्हें वैंटीलेटर पर रखा गया था। डॉक्टरों के तमाम प्रयासों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका। वहीं उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि उक्त महिला के प्रत्यक्ष.अप्रत्यक्ष संपर्क में आए व्यक्तियों का पता लगा कर करीब 50 सैंपल लेकर जांच की गई है। इनमें से 44 सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। शेष सैंपल की रिपार्ट आना अभी बाकी है।

हमीरपुर की महिला की आईजीएमसी में मौत

इसी तरह हमीरपुर की 72 साल की महिला की भी शिमला में आईजीएमसी मंे मौत हो गई। यह महिला भी कोरोना से संक्रमित थी और इसके साथ ही किडनी की बीमारी से भी ग्रसित थी। इस महिला की पिछली देर रात मृत्यु हो गई। इस महिला को तीन दिन पहले हमीरपुर से आईजीएमसी शिमला रैफर किया गया था और इसका पति भी कोरोना से पहले ही संक्रमित निकला है। इसके पति का इलाज हमीरपुर के एक कोविड अस्पताल में चल रहा है।

चेन्नई से ट्रेन के माध्यम से 211 नागरिक पहुंचे हिमाचल

उपायुक्त राकेश प्रजापति ने बताया कि चेन्नई से 211 नागरिक ट्रेन के माध्यम से चक्की बैंक पहुंचे हैं जिनमें कांगड़ा जिला के 54 नागरिकों को संस्थागत क्वारंटीन सेंटर शाहपुर में भेजा गया है तथा मेडिकल चेकअप किया गया है। इसके साथ ही गगल में सोमवार से हवाई सेवाएं भी आरंभ हो गई हैं।