हिमाचल में कोरोना विस्फोट, एक दिन में 18 मामले

कोरोना के  मंडी में 4, कांगड़ा 13, कुल्लु 1 मामले आए

नार्थ गजट न्यूज।

हिमाचल प्रदेश में एकाएक कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। बुधवार को राज्य में कोरोना के 18 नए मामले आए। इनमें 4 मामले मंडी जिला से, 13 मामले कांगड़ा जिला से और एक मामला कुल्लु जिला से आया है।मंडी में सामने आए कोरोना पाजिटिव मामलों में दो महिलाएं व दो पुरूष शामिल हैं।मंडी से सामने आए सभी संक्रमित भी पहले से क्वारटाईन में ही रखे गए थे, इसलिए इनसे आगे संक्रमित होने की संभावना बहुत ही कम हो गई है।राज्य में  सामने आए इन नए कोरोना संक्रमितों को पहले क्वारटाईन में ही रखा गया था इसलिए स्थिति पूरी तरह से स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण में हैं। ऐसे में किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है।उपायुक्त मंडी ने ऋगवेद ठाकुर ने बताया कि जिन व्यक्तियों की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई है वे गोहर, बल्ह, थुनाग और सदर उपमंडल से हैं। इनमें से एक मरीज पहले से ही नेरचैक अस्पताल में हैं और बाकी तीन को अस्पताल में उपचार के लिए लाया जा रहा है।

इसी तरह बुधवार को कांगड़ा जिला से 13 मामले और एक मामला कुल्लु जिले से आया है। बताया जा रहा है कि सभी संक्रमित एक ही train से मुंबई से हिमाचल पहुंचे थे। गनीमत यह रही है कि ये सभी संक्रमित ऐतिहयात के तौर पर क्वारंटीन सेंटरों में ही रखे गए थे। बताया जा रहा है कि इन मामलों में सरीमोलग क्षेत्र से एक ही परिवार के 3 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए थे। बाकी दो व्यक्ति बैजनाथ के कोहली, लंबागांव क्षेत्र से हैं। इसी तरह एक व्यक्ति किसी कांगड़ा के अन्य क्षेत्र से है। इनके टैस्ट पाजिटिव आने के बाद इन्हें उपचार के लिए बैजनाथ स्थानांतरित किए जाने की सूचना है।

हिमाचल प्रदेश में बुधवार को सुबह सुबह ही कोरोना के छह नए मामले सामने आए थे।। इन कोरोना संक्रमितों में पांच मामले कांगड़ा के परौर स्थित क्वारटाईन सेंटर से आए हैं। ये सभी संक्रमित मुंबई से हाल ही में हिमाचल लौटे हैं। मुंबई रेड जोन क्षेत्र में आता है इसलिए इन्हें हिमाचल पहुंचते ही क्वारटाईन सेंटर में भेज दिया था। बताया जा रहा है कि इन संक्रमितों में तीन मामले झयोल क्षेत्र से, एक मामला ज्वालाजी से और एक मामला लंबागांव क्षेत्र से आया है। इन सभी संक्रमितों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं।

इसी तरह कुल्लु जिला से भी कोरोना का एक मामला रिपोर्ट हुआ है। बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमित इस युवक को बजौरा के क्वारटाइन सेंटर में रखा गया था और यह युवक भी मुंबई से हिमाचल हाल ही में वापिस लौटा है। अभी तक प्रदेश में कोरोना के कुल 110 पाजिटिव केस रिपोर्ट हो चुके हैं।

इसी तरह लॉकडाउन के बीच दूसरे राज्यों में फंसे लोगों की घर वापिसी का सिलसिला लगातार जारी है।  तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद से आज एक  विशेष ट्रेन  दोपहर एक बजे 118 हिमाचलियों को लेकर पठानकोट रेलवे स्टेशन पर पहुंची। जहां पर एसडीएम डॉ सुरेन्द्र ठाकुर, नायब तहसीलदार देस राज ठाकुर सहित उपस्थित अन्य नोडल अधिकारियों ने उनका  स्वागत किया।  यह ट्रेन सोमवार को रात 10 बजे हैदराबाद से रवाना हुई थी।  गौरतलब है कि गत सोमवार को भी एक विशेष ट्रेन 259 हिमाचलियों को लेकर चेन्नई से पठानकोट पहुंची थी।
   स्टेशन  पहुंचने पर डॉ सन्नी जरयाल द्वारा सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। इस बारे जानकारी देते हुए एसडीएम सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि इन सभी लोगों को एचआरटीसी की सात विशेष बसों के द्वारा अपने-अपने जिलों में बनाए गए संस्थागत क्वारन्टीन केंद्रों के लिए भेजा  गया है।
 उन्होंने बताया कि कांगड़ा ज़िला के यात्रियों को प्रशासन द्वारा कोटला में बनाए गए संस्थागत क्वारन्टीन केंद्र में भेजा गया है, जबकि अन्य जिलों के यात्रियों को उनके जिलों में बनाए गए संस्थागत क्वारन्टीन केंद्रों में रखा जाएगा, जहां पर प्रशासन द्वारा इनके ठहरने खान-पान की विशेष व्यवस्था की गई है।
  उन्होंने बताया कि इस ट्रेन से कांगड़ा ज़िला के 37 , मंडी के 19 , शिमला व हमीरपुर ज़िला के 10-10,  ऊना व सिरमौर के 7-7, कुल्लू व चंबा के 9-9, बिलासपुर के 6, जबकि  सोलन जिला के 4 यात्री पहुंचे।