घरों में ही रहे लोग: परमार

राजेश व्यास, पालमपुर

 

विधानसभा अध्यक्ष, विपिन सिंह परमार ने वैश्विक महामारी कोरोना की रोकथाम को लेकर उपमण्डल पालमपुर तथा धीरा में किये जा रहे इंतजामों की समीक्षा की।उन्होंने कहा कि इस महामारी से देश के लोगों की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च रात को 21 दिनों के लिए पूरे देश को लॉक डाउन करने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लोगों की सुरक्षा को अधिक मजबूत करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री, जयराम ठाकुर ने भी प्रदेश में कर्फ्यू का ऐलान किया है, ताकि कोविड-19 के संक्रमण को रोका जा सके।

उन्होंने कहा लोगों से आहवान किया कि अपनी सुरक्षा का ध्यान में रखते हुए कर्फ्यू तथा लॉक डाउन का पालन करें तथा अपने घरों में ही बने रहें।  दूनियां के कई देशों में कोरोना वायरस इतनी तेजी से फैल रहा है और कोरोना संक्रमण पूरी दूनियां के लिए एक गंभीर चुनौती बना हुआ है। उन्होंने कहा कि सभी तैयारियों और प्रयासों के बावजूद विकसित देशों को भी संकट का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना से प्रभावी मुकाबले के लिए एकमात्र उपाय सामाजिक दूरी है।

उन्होंने कहा कि आम जनमानस की जीवन को बचाना सबसे बड़ी प्राथमिकत है और सरकार इस चुनौती से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नागरिकों को रोजमर्रा के लिए फल-सब्जी, आनाज, आटा, चावल, गेंहू, दालें, अन्य खाद्य पदार्थ, दवाईयां, एलपीजी गैस इत्यादि उपलब्ध करवाने के लिए कर्फ्यू में ढील दी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खाद्यानों का भण्डारण प्रचूर मात्रा में है और इसमें कोई कमी नहीं है। उन्होंने दोनों उपमण्डलों में प्रशासन के कार्यों की सराहना की और आगे भी पूरी तत्परता से कार्य करने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों की पहचान की जाये जो अति निर्धन हैं और उन्हें खाने-पीने इत्यादि में कठिनाई है तो राशन उपलब्ध करवाया जाये। उन्होंने लोगों से अफवाहों से दूर रहने का आहवान किया। इससे पहले विधान सभा अध्यक्ष ने सिविल अस्पताल में चिकित्सकों से मुलाकात कर स्थिती का जायजा लिया। उन्होंने चिकित्सकों से अपनी सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखने की अपील की। इस अवसर पर राज्य सभा सांसद इंदू गोस्वामी, प्रदेश भाजपा महामंत्री त्रिलोक कपूर, एसडीएम पालमपुर धर्मेश रामोत्रा, एसडीएम धीरा विकास जंवाल, डीएसपी अमित शर्मा, एमएस डॉ0 विनय महाजन उपस्थित रहे।