कांगड़ा ज़िला लॉकडाउन ……..अपना कर्फ्यू लागू, 19 नमूनों में से 17 की रिपोर्ट नेगेटिव।

North Gazette News/ Dharamshala
धर्मशाला 22  मार्च: उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने जानकारी दी है कि वैश्विक घोषित कोरोना महामारी  के खतरे से बचने के लिए प्रदेश सरकार ने  कांगड़ा ज़िला को तुरन्त प्रभाव से  पूरी तरह लॉकडाउन कर दिया है तथा आगामी आदेशों तक अपना कर्फ्यू लागू रहेगा।
उन्होंने बताया कि इस दौरान राज्य तथा अंतरराज्यीय रूटों पर चलने वाली बसों, स्टेज तथा कॉन्ट्रैक्ट कैरिज वाहनों  की आवाजाही पर पूरी तरह रोक  रहेगी। इस दौरान  टैक्सियों, ऑटोरिक्शा सहित ट्रेनों व व्यवसायिक हवाई उड़ानों पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।  उन्होंने बताया कि सेना, एम्बुलेंस, फायरब्रिगेड तथा इमरजेंसी में अस्पताल में मरीजों को लेकर जाने वाले वाहनों, आवश्यक सेवाओं में तैनात स्टॉफ सहित जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति करने वाहनों के चलाने पर छूट रहेगी।  इस अवधि में बैंक व एटीएम पूरी तरह से क्रियाशील रहेंगे।
   उपायुक्त ने बताया कि इस दौरान मेडिकल स्टोर, ऐनकों की दुकानें, टेस्टिंग लैब, करियाना, फल-सब्ज़ी, दूध, ब्रेड, मीट-मछली, विना पक्का खाने के सामान की दुकानों के खोलने पर छूट रहेंगी। इसके अतिरिक्त पेट्रोल -पंप, गैस एजेंसियां व उनके  गोदाम खुले रहेंगे, जबकि अन्य दुकानें, उद्योग, वर्कशॉप व्यापारिक प्रतिष्ठान व गोदाम पूरी तरह से बंद रहेंगे।  सैनिटाइजर व दवाइयों में स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन्स के मुताबिक इस्तेमाल होने वाले लिक्विऱ, दवाइयां,  सैनिटाइजर और साबुन बनाने वाले उद्योग खुले रहेंगे।
        डीसी ने बताया कि प्रशासन द्वारा एहतियातन सभी कार्यालयों को बंद कर दिया गया है। जबकि आवश्यक  सेवाओं व कार्यों के संचालन के लिए  क्लास थ्री तथा फोर कर्मियों को बारी-बारी से कार्यालय में उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए है। इस दौरान कोई भी अधिकारी या कर्मचारी अवकाश पर नहीं जाएगा और जो आवश्यक सेवाओं में तैनात कर्मी पहले से ही अवकाश पर हैं, उन्हें तुरंत अपनी ड्यूटी सम्भालनें के निर्देश दिए गए हैं।
    उन्होंने बताया कि पुलिस,अग्निशमन, स्वास्थ्य विभाग, ट्रेज़री, बैंक, एटीएम, डाकघर,  बिजली, पानी, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया, शहरी  व ग्रामीण विकास विभाग के कार्यालयों में आवश्यक कार्य यथावत जारी रहेंगे। उन्होंने कहा कि जिला में सभी धार्मिक , सामाजिक आयोजनों पर  पहले से ही रोक लगा दी गई है।
     उन्होंने बताया कि 9 मार्च के बाद विदेश भ्रमण से कांगड़ा जिला में लौटे सभी नागरिकों को प्रशासन को सूचना देना अत्यंत जरूरी है।  उन्होंने बताया कि किसी भी तरह की जानकारी   ये लोग टोल फ्री नंबर 104  या 1077 पर दे सकते हैं।  ऐसा न करने पर उनके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की जाएगी।
     उपायुक्त ने बताया कि जांच में कुल 19 नमूनों में से 17 की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई है, जबकि दो सैंपल जांच हेतु  पुणे लैब में भेजे गए हैं जिनकी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे अपनी जरूरत का सामान खरीदने व किसी आपात स्थिति में ही घर से निकलें। उन्होंने लोगों से संकट की इस घड़ी में प्रशासन से सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा कि लोग कोरोना बीमारी से घबराए नहीं, केवल सतर्क और सावधान रहें तथा सामाजिक दूरी बनाए रखें। उन्होंने लोगों से झूठी अफवाहों से भी बचने का भी आग्रह किया है।  उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की झूठी अफवाह फैलानें व मैसेज फॉरवर्ड करने वाले ऐसे लोगों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।