राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने दी ललिता वकील को बधाई

शिमला, 11 नवबंर ।

राज्यपाल श्रीमती उर्मिला सिंह और मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने चम्बा कशीदाकारी में पहला ‘शिल्प गुरू’ पुरस्कार प्राप्त करने के लिए चम्बा निवासी श्रीमती ललिता वकील को बधाई दी है। राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी ने नई दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में उन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया। श्रीमती ललिता वकील वर्ष 1993 में भी राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त कर चुकी हैं।

श्रीमती उर्मिला सिंह ने इस उपलब्धि पर बधाई देते हुए कहा है कि श्रीमती ललिता वकील ने चम्बा की पारम्परिक कला का अस्तित्व बनाए रखने के लिए अपना समस्त जीवन समर्पित किया है। चम्बा रूमाल की अनूठी परम्परा को जीवंत रखने के लिए वह भावी पीढिय़ों को भी प्रशिक्षण एवं मार्गदर्शन प्रदान कर रहीं हैं। उन्होंने कहा कि चम्बा रुमाल पर उत्कृष्ट कशीदाकारी में श्रीमती ललिता वकील को महारात हासिल है, जिसमें गीत गोविंद, भगवत पुराण, राधा-कृष्ण और शिव-पार्वति का सुदंर समावेश भी देखने को मिलता है।

मुख्यमंत्री ने श्रीमती ललिता वकील को बधाई देते हुए कहा है कि चम्बा कशीदाकारी, विशेषकर चम्बा रूमाल के लिए प्रतिष्ठित पुरस्कार जीतकर उन्होंने प्रदेश को गौरवान्वित किया है। कलाकारों द्वारा चम्बा रूमाल पर की जाने वाली अनूठी कढ़ाई और रंगों के बेहतरीन सम्मिश्रण के कारण इसे अंतरराष्ट्रीय पहचान मिली है।

उन्होंने कहा कि श्रीमती ललिता वकील के मार्गदर्शन में जिन 150 से अधिक युवा कलाकारों ने कशीदाकारी में प्रशिक्षण प्राप्त किया है, उन्हें श्रीमती वकील की इस उपलब्धि से प्रेरणा मिलेगी और वे इस कला को और आगे ले जाने के लिए कार्य करेंगे। चम्बा को समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर के लिए जाना जाता है और चम्बा रूमाल को इस धरोहर कस्बे की पहचान के रूप में जाना जाता है।