बादलों से छाने से ठंड़ ने दी प्रदेश में दस्तक

शिमला, 22 नवबंर ।

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के अधिकांश भागों में मौसम में कोई परिवर्तन नहीं आया है। ठंड के प्रकोप के कारण अधिकतम तापमान में 2 से 3 डिग्री की कमी आई। परन्तु न्यूनतम तापमान में कोई खास परिवर्तन नहीं देखा गया। इस दौरान केलांग में तापमान माईनस शून्य दशमलव 7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वीरवार को भी राजधानी शिमला में दिन के हल्के बादल छाए रहे। प्रदेश के अधिकतर भागों में दिन के समय बादलों के छाने से प्रदेश ठंड़ की चपेट में आ गया है।
वीरवार को राजधानी शिमला में अधिकतम तापमान 18.6 डिग़्री सैल्लीसीयस दर्ज किया गया। जबकि बुधवार को शिमला सारा दिन बादल छाए रहने के कारण अधिकतम तापमान 15.9 डिग़्री सैल्लीसीयस दर्ज किया गया था।
उधर शीत मरूस्थल के नाम से विख्यात जिला लाहौल स्पिति की उंची चोटियों पर पिछले 2 दिनों में हुए हल्के हिमपात से तापमान में भारी गिरावट के चलते अधिक उंचाई पर स्थित कई रिहायशी इलाकों में पानी जमने लगा है। कई झरने और कई झीलें भी पूरी तरह से जमने लगी हैं।
हालांकि रोहतांग दर्रे पर वाहनों की आवाजाही अभी जारी है लेकिन सुबह के समय सडक़ पर पानी जमने की स्थिति को देखते हुए पथ परिवहन निगम ने बसों की समय सारिणी में बदलाव कर सुबह देरी से बसें चलाने का निर्णय लिया है।
मौसम विभाग के पुर्वानुमान के अनुसार आने वाले 24 घंटो में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की वजह से मौसम में कुछ परिवर्तन की उम्मीद जगी है।
वीरवार को प्रदेश में अधिकतम तापमान ऊना में 25 डिग़्री सैल्लीसीयस दर्ज किया जबकि न्यूनतम तापमान कल्पा में 12.8 डिग़्री सैल्लीसीयज दर्ज किया गया। प्रदेश अन्य शहरों में वीरवार को अधिकतम तापमान सोलन में 22.2, धर्मशाला में 22.8, नाहन में 20.3 और भूंतर में 22.4 डिग़्री सैल्लीसीयस दर्ज किया गया।