आर्थिक रूप से कमज़ोर रोगियों को समर्पित हों दंत चिकित्सक: मुख्यमंत्री

शिमला, 07 नवबंर।

मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने दंत चिकित्सकों से आर्थिक रूप से कमजोर उन रोगियों के प्रति सेवा एवं समर्पण की भावना से कार्य करने का आह्वान किया है जो उपचार का खर्च उठाने में असमर्थ हैं।
मुख्यमंत्री गत सायं चंडीगढ़ के समीप पंचकूला जिला के अन्तर्गत सुल्तानपुर गांव में बीआरएस डेंटल कॉलेज के 16वें वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।
हिमाचल प्रदेश में सरकार के प्रयासों की चर्चा करते हुए प्रो. धूमल ने कहा कि राज्य में मुस्कान योजना आरम्भ की गई है, जिसके अन्तर्गत हाल ही में 75 दंत चिकित्सकों को तैनात किया गया है ताकि इस योजना को जन आन्दोलन बनाया जा सके। योजना के अन्तर्गत वरिष्ठ नागरिकों को नि:शुल्क डेंचर की सुविधा प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री विद्यार्थी स्वास्थ्य कार्यक्रम का दूसरा चरण आरम्भ कर दिया गया है, जिसके अन्तर्गत स्कूली विद्यार्थियों का नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री ने इस मौके पर ‘इंडियन जरनल ऑफ ओरल हेल्थ साईंसिज’ के चौथे संस्करण का विमोचन किया। उन्होंने मेधावी विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया और कॉलेज के श्रेष्ठ अध्यापकों को स्मृति चिन्ह भेंट किए। इस समारोह में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री श्री रविन्द्र सिंह रवि भी मुख्यमंत्री के साथ उपस्थित थे।