हिमाचल लोकहित पार्टी ने जारी किया विजन डाक्यूमैंट

शिमला, 10 सितम्बर ।

हिमाचल लोकहित पार्टी ने आज अपना 13 सूत्रीय विजन डाक्युमैंट जारी किया। 6 महीने में तैयार किए गए इस डाक्युमैंट में पार्टी ने शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, सडक़ व यातायात, सामाजिक समरसता व सुरक्षा, कृषि व पशुपालन, पर्यावरण, पर्यटन, औद्योगिक व व्यवसाय, खेलकूद एवं युवा उत्थान, राजनैतिक व प्रशासनिक सुधार, हिमाचल राजस्व सुधार व नव निर्माण योजना तथा आय के स्त्रोत आदि क्षेत्रों में पार्टी ने अपना विजन स्प्ष्ट किया है। पार्टी का लक्ष्य आने वाली पीढिय़ों को स्वच्छ, निर्भय व भ्रष्टाचार मुक्त समाज देने के लिए शासन व्यवस्था में लोकपाल जैसे कानून को बनाना है। इस विजन डाक्युमैंट को आज हिमाचल लोकहित पार्टी के अध्यक्ष महेश्वर सिंह ने शिमला में जारी किया।

इस विजीन डाक्युमैंट में पार्टी शिक्षा के क्षेत्र में प्राथमिक शिक्षा केंद्रों को प्रदेश में स्थापित अन्य निजी क्षेत्र के स्कूलों के समक्ष खड़ा करने पक्षधर है। इस डाक्युमैंट को जारी करते हुए महेश्वर सिंह ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी यह सुनिश्चित करेगी कि प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय में कम से कम एक प्रशिक्षित अध्यापक तैनात हो। निजी विश्वविद्यालय व संस्थान जो एक बार खुल चुका है, सदैव शिक्षा के क्षेत्र में ही कार्यरत रहेगा। इसे कानून द्वारा सुनिश्चित किया जाएगा।
स्वास्थ्य के क्षेत्र में कन्या शिशु का 5 वर्ष तक का स्वास्थ्य बीमा सरकार स्वयं वहन करेगी। रोगी कल्याण समिति केवल रोगियों के हितकारी कार्य ही करेगी, वह वर्तमान की तरह रोजगार आदि देने जैसे कार्य नहीं करेगी। प्रदेश में 65 वर्ष आयु पार कर चुके सभी नागरिकों को स्वास्थ्य बिमा लाभ मिलना चाहिए। प्रदेश में सभी सरकारी विभागों में नियमित रोजगार दिया जाना चाहिए। पार्टी ने कान्टै्रक्ट पर रोजगार का विरोध किया है। जो उद्योग 95 प्रतिशत हिमाचलियों को रोजगार देती है उसे विशेष सुविधाएं दी जाएगी।

महेश्वर सिंह ने कहा कि प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्गों को फोरलेन करने की आड़ में कृषकों, बागवानों व पर्यावरण को नुक्सान करने की पार्टी पक्षधर नहीं है। इसके स्थान पर बैकल्पिक मार्गों का निर्माण किया जाना चाहिए। कृषि को बंदरों व अन्य जंगली जानवरों से नुकसान से बचाने के लिए लंबी अवधि की योजना बनाई जानी चाहिए। व्यवसायिक पशु पालक का रिकार्ड ऑनलाईन उपलब्ध करवाया जाएगा तथा इनके जन्म व मृत्यु का लेखा जोखा रिकॉर्डबद्ध किया जाना चाहिए। पशुओं को लाबारिस छोडऩा कानूनी उपराध घोषित किया जाए।
महेश्वर सिंह ने कहा कि हिलोपा प्रदेश में स्वतंत्र व सशक्त लोकायुक्त की पक्षधर है। वर्तमान में प्रदेश में बिना शक्तियों के लोकायुक्त है जो कुछ भी नहीं कर सकते हैं। पार्टी स्वयं अपने नेताओं की जांच के लिए पार्टी के अंदर ही एक विजिलेंस सेल का गठन करेगी ताकि नेताओं की समय-समय पर निष्पक्षता से जांच हो सके। इस डाक्युमैंट में आय के स्त्रोतों का जिक्र भी किया गया है। इसके तहत पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रदेश को वनों की रॉयलटी मिलनी चाहिए।