वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एंव पूर्व मंत्री सत महाजन का दिल का दौरा पडऩे से निधन

शिमला, 01 सितंबर ।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एंव फील्ड मार्शल के नाम से मसहूर पूर्व मंत्री सत महाजन का शनिवार सुवह दिल का दौरा पडऩे निधन हो गया। सत महाजन के परिवार के एक सदस् ने बताया वे कुछ अवस्थ चल रहे और दिल्ली के एस्कार्ट अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे थे। रविवार को अपना अपने पैतृक स्थान नुरपूर (कांगड़ा) में अंतिम संस्कार किया जाएगा।
85 वर्षीय सत महाजन अपने पीछे एक वेटा और एक वेटी छोड़ गए हैं। सत महाजन पहली बार 1977 में पहली बार हिमाचल प्रदेश विधानसभा के सदस्य चुने गए। इसके बाद में 1982, 1985, 1993 और 2003 में भी नुरपूर विधानसभा से कांग्रेस के विधायक रहे। सतमहाजन ने 1996 में कांगड़ा लोकसभा क्षेत्र से सांसद का चुनाव लडा और विजय प्राप्त की। सत महाजन हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के भी प्रधान रहे।
वे हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की सरकार में मंत्री भी रहे। उनके द्वारा करवाए गए विकास कार्यो से प्रभावित होकर लोग उन्हें फीलड मार्शल के नाम से भी जानने लगे।
मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने सत महाजन के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने परमपिता परमेश्वर से दिवंग्त आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को इस असहनीय दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष वीरभद्र सिंह और विधान सभा प्रतिपक्ष नेता विद्या स्टोक्स ने पूर्व अध्यक्ष एंव वरिष्ठ कांग्रेस नेता सत महाजन के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। वीरभद्र सिंह और स्टोक्स ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि  महाजन कांग्रेस पार्टी वरिष्ठ नेता रहे हैं और तीन बार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बने तथा हिमाचल सरकार में कई बार मंत्री पदों पर भी रहेे।
वीरभद्र सिंह और विद्या स्टोकस ने कहा कि महाजन के निधन से जो नुकसान कांग्रेस पार्टी को हुआ है उसकी भरपाई कभी नही हो सकती है इसके लिए प्रदेश कांग्रेस व प्रदेश की जनता सदैव ऋृणी रहेगी। वीरभद्र सिंह ने दिबंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना की है और शोक संत्पत परिवार के प्रदति अपनी संवेदनाऐं भेजी है।