रोरिच मयूजियम के क्यूरेटर ने पद छोड़ा

शिमला, 09 सितम्बर ।

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में स्थित रसियन कलाकार निकोलस रोरिच मयूजियम के क्यूरेटर एलेना एडमकोवा ने अपना पद छोड़ दिया है। उन्होंने एक दशक तक इस मयूजियम की कमान संभाली। राज्य कला, संस्कृति और भाषा विभाग के निदेशक राकेश कंवर ने बताया कि एडमकोवा ने शनिवार को खुद को मयूजियम की सारी जिम्मेदारियां से मुक्त कर दिया। एडमकोवा के स्थान पर अब भारत और रसिया के दो क्यूरेटर नियुक्त किए गए हैं।
अंतरराष्ट्रीय रोरिच मैमोरियल ट्रस्ट ने भारत के ओसी हांडा और रूस के एल सूरगिना को क्यूरेटर तैनात किया है।  उन्होंने बताया कि हांडा ने अपना पदभार संभाल लिया है और जल्द ही सुरगिना भी पद संभालेंगे। पांच रसियन और 12 भारतीयों ने मिलकर 6 जुलाई 1962 को अंतरराष्ट्रीय रोरिच मैमोरियल ट्रस्ट की स्थापना की थी, ताकि रसियन कलाकार की विरासत और भूसंपति को सुरक्षित रखा जा सके। भारत में रूस के राजदूत अलेगजेंडर एम कदकिन इसके आजीवन ट्रस्टी और उपाध्यक्ष  तथा हिमाचल के मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल पदेन अध्यक्ष हैं।