कोल ब्लाक मुद्दे पर भाजपा का 21 को जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन

शिमला, 18 अगस्त ।

संसद में पेश हुई कैग रिपोर्ट में कोल ब्लाक के आवंटन में केंद्र सरकार द्वारा बरती गई कथित अनियमितताओं के विरोध में भारतीय जनता पार्टी हिमाचल में 21 अगस्त को सभी जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन करेगी। प्रदेश भाजपा प्रवक्ता अशोक कपाहटिया ने आज पत्रकार वार्ता में बताया कि भाजपा कैग की इस रिपोर्ट को आने वाले विधानसभा चुनावों में मुद्दा बनाएगी तथा धरने प्रदर्शन कर जनता को जागरूक करेगी। एक दिन पहले कैग की कोल आवंटन को लेकर संसद में पेश की गई थी, जिसमें 2005 से लेकर 2011 के मध्य कई कंपनियों को कोल आवंटन में कई कंपनियों को फायदा पहुंचानें की बात कही गई थी।
कपाहटिया ने कहा कि कैग की रिपोर्ट के आधार पर कोल आवंटन में कथित अनियमितताओं को लेकर प्रधानमंत्री नैतिक जिम्मेवारी लें और अपने पद से त्यागपत्र दें। भाजपा इस मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर उठाएगी। भाजपा ने यह भी आरोप लगाया कि कैग रिपोर्ट में सामने आए कोल गेट स्कैम के जिम्मेदार मंत्रियों और अधिकारियों पर कार्यवाही की जाए और कैग की रिपोर्ट को आधार बनाकर इसकी निष्पक्ष एजेंसी से जांच करवाई जाए। कपाहटिया ने कहा कि जिन लोगों के शय पर यह घोटाला हु

आ है, उन्हें पकड़ा जाए तथा इस घोटाले से कमाए गए पैसे का भी पता लगाया जाए।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के समय में ही टूजी स्कैम का घोटाला हुआ और सरकार के मंत्रियों ने टूजी मामले में कैग की रिपोर्ट को सिरे से नकार दिया। भाजपा को अब यह आशंका है कि कांग्रेस कोल स्कैम मामले में भी कैग की रिपोर्ट को नकारने का प्रयास करेगी। कपाहटिया ने कहा कि यूपीए-1 के समय वर्ष 2005 में सरकार ने कोयला आवंटन को पारदर्शी तरीके से बोली के जरिए देने का निर्णय लिया था, लेकिन आज तक इस निर्णय को लागू नहीं करना दुर्भाग्यपूर्ण है।