हिलोपा ने गैर भाजपा-कांग्रेस दलों के साथ बढ़ाए हाथ

शिमला।

आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा और कांग्रेस के समक्ष चुनौती खड़ी करने के लिए हिमाचल लोक हित पार्टी, सीपीएम, सीपीआई और हिमाचल स्वाभिमान पार्टी के बीच जुगलबंदी की कबायद तेज हो गई है। प्रदेश में तीसरा विकल्प तैयार करने के मकसद से इन गैर भाजपा-कांग्रेस दलों ने एक उपसमिति का गठन किया है, जो बातचीत के माध्यम से समझौते को अंतिम रूप देने के लिए एक प्रक्रिया तय करेगी।

हिलोपा के कार्यालय प्रभारी टिक्कू ठाकुर ने बताया कि यह उपसमिति जो सिफारिशें करेगी और यदि उन पर सहमति हो जाती है तो प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए तीसरे मोर्चे का गठन होगा। उन्होंने कहा कि इसका उदाहरण हाल ही में शिमला नगर निगम के हुए चुनाव हैं जहां पर मतदाओं ने कांग्रेस और भाजपा को नकार कर तीसरे विकल्प को भारी मतो से जीता कर यह संदेश दिया है। ठाकुर के अनुसार उपसमिति की पहली बैठक मंगलवार को शिमला में होगी।

गत सांय हिमाचल लोक हित पार्टी के क्रोर ग्रुप की बैठक शिमला में हुई जिसमें पार्टी अघ्यक्ष महेश्वर सिंह, उपाघ्यक्ष के0डी0 धर्माणी, महामंत्री श्यामा शर्मा, डा0 धर्म चंद गुलेरिया, पार्टी प्रवक्ता मंहेद्र नाथ सोफत, यूवा सेना अघ्यक्ष धैर्य सुशांत, प्रदेश कार्यलय प्रभारी टिक्कू ठाकुर, पार्टी के वीजन डाकूमेंट प्रमुख विवेक शर्मा ने भाग लिया। बैठक में प्रदेश की वर्तमान राजनैतिक स्थिति पर विचार विर्मश किया गया और भाजपा नेताओं द्वारा की जा रही ब्यान बाजी की कड़ी आलोचना की गयी। पार्टी के सदस्यता अभियान पर चर्चा उपरान्त निर्णय लिया गया कि प्रदेश के भिन्न-भिन्न क्षेत्रो की बढती मांग पर सदस्यता को और तेजी से बढाया जायेगा।