साल के आखिर तक सभी गांव सडक़ सुविधा से जुड़ेंगे : धूमल

शिमला, 05 जुलाई ।

हिमाचल के  250 आबादी वाले सभी गांवों को इस वर्ष के अंत तक सडक़ सुविधा से जोड़ा जाएगा। यह जानकारी मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने आज सुन्नी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दी। धूमल ने कहा कि सुन्नी क्षेत्र में एक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान आरम्भ किया जाएगा।

इससे पूर्व, उन्होंने यहां लगभग 25 करोड़ 50 लाख रुपये की लागत की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इनमें सुन्नी में लगभग 11 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित राजकीय महाविद्यालय परिसर, सतलुज नदी पर थली में 6 करोड़ 53 लाख रुपये की लागत से निर्मित पुल, सैंज खड्ड पर 7 करोड़ 52 लाख रुपये की लागत से निर्मित पुल का लोकार्पण तथा बसन्तपुर के समीप कदोग में 38 लाख 34 हजार रुपये की लागत से निर्मित वाहन योग्य सडक़ पर पथ परिवहन निगम की बस को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

धूमल ने कहा कि मुख्यमंत्री विद्यार्थी स्वास्थ्य कार्यक्रम के दूसरे चरण में सभी सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों का नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। अटल स्कूल यूनिफार्म योजना के अन्तर्गत पहली से 10वीं कक्षा तक पढऩे वाले सभी विद्यार्थियों को शैक्षणिक सत्र के दौरान दो जोड़े वर्दियां नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जा रही हैं, जिसपर लगभग 65 करोड़ रुपये व्यय किया जा रहा है और 100 रुपये प्रति वर्दी सिलाई के लिए भी दिए जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि देश के अन्य राज्यों में बिजली की दरों में निरन्तर वृद्धि हो रही है। जबकि राज्य में घरेलू उपभोक्ताओं को पुरानी दरों पर ही विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित बनाने के लिए 190 करोड़ रुपये का उपदान मिल रहा है।

प्रो. धूमल ने कहा कि सुन्नी महाविद्यालय में 245 विद्यार्थियों की उच्च शिक्षा के लिए 11 करोड़ रुपये की लागत से महाविद्यालय परिसर का निर्माण किया गया है। इस वित्त वर्ष के दौरान शिक्षा पर 3459 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने महाविद्यालय के फर्नीचर के लिए 3,38,570 रुपये देने की तथा अन्य कार्यों के लिए 1.5 लाख रुपये की राशि उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने विज्ञान एवं वाणिज्य कक्षाएं आरम्भ करने का भी आश्वासन दिया। उन्होंनें शिशु पार्क के लिए 3 लाख रुपये तथा सामुदायिक भवन के लिए 5 लाख रुपये भी स्वीकृत किए। उन्होंने बीएमओ कार्यालय को मशोबरा से सुन्नी स्थानान्तरित करने की संभावनाएं तलाशने के भी निर्देश दिए।