विकास और भ्रष्टाचार होगा भाजपा का चुनावों में मुख्य मुददा

शिमला।

प्रदेश भाजपा के नेताओं की दो दिवसीय बैठक चण्डीगढ में रविवार को समाप्त हुई। यह दो दिसवीय बैठक कुल छ: सत्रों में हुई। इस बैठक के माध्यम से भाजपा के वरिष्ठ नेताओं शांता कुमार और मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के बीच चली आ रही खाई को पाटने की कोशिश की गई। सूत्रों के अनुसार भाजपा इस खाई को कम करने में काफी हद तक सफल भी रही। पहले दिन बैठक का केवल एक ही सत्र हुआ था जिसमें मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल और शांता कुमार के बीच बंद कमरे में बैठक हुई थी।  जबकि आज हाईकमान से आए नेताओं और प्रदेश नेताओं के बीच बैठकों का दौर पांच सत्रों में चला।

बैठक के बाद भाजपा महासचिव व राज्यसभा संासद जेपी नड्डा ने बताया कि बैठक में आने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बातचीत की गई, जोकि साकारात्मक रही। उन्होंने कहा कि अगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा का मुख्य मुद्दा  विकास व भ्रष्टाचार होगा।

नड्डा ने बताया कि संगठन को प्रभावशाली वनाने के लिए विधानसभा चुनावों के मद्देनजर पार्टी प्रदेश में कार्यकर्ताओं के लिए प्रशिक्षण शिविर लगाएगी और रैलियां करेगी। आगामी 8 जुलाई को कांगडा में एक युवा रैली की जाएगी।  राज्ससभा सासंद नडडा ने कहा कि पार्टी बूथ स्तर पर अपनी गतिविधियां बढाएगी और सरकार की उपलब्धियों को जनता के बीच ले जाएगी।