आपसी मतभेदों को मिटांए कांग्रेसी कार्यकर्ता : राहुल गांधी

शिमला।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव राहुल गांधी का सरवरी पहुंचने पर उनका हिमाचल चुनाव प्रचार समिति वीरभद्र ङ्क्षसह, वाणिज्य मंत्री आनंद शर्मा, हिमाचल प्रदेश प्रभारी विरेन्द्र चौधरी, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कौल ङ्क्षसह ठाकुर सहित सभी कांग्रेस नेताओं ने स्वागत किया व सेवादल ने सलामी दी। इसके उपरांत राहुल गांधी ने प्रदेश कांगे्रस के वरिष्ठ नेताओं के साथ दस मिनट गुप्त मंत्रणा की।

राहुल गांधी ने सरवरी होटल में प्रदेश के तमाम जिला अध्यक्ष, एवं ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्षों के साथ बैठक की तथा उन्हें चुनावी टिप्स दिए। यह बैठक करीब 45 मिनट चली।
वहीं दूसरे सत्र में 68 विधानसभा क्षेत्रों के पांच-पांच प्रतिनधियों के साथ 45 मिनट तक वार्ता की तथा इस टे्रनर टे्रनिंग प्रोगराम प्रदेश कार्यसमिति एवं डेलिगेट सैशन, पंचायती राज डेलिगेट सैशन में उन्होंने एक जुटता का पाठ पढ़ाते हुए कहा कि हिमाचल में पार्टी की हार आपसी गुटबाजी के कारण ही हुई है। अगर आज भी हम एकजुट होकर पार्टी के लिए कार्य नहीं करेंगे तो आने वाले समय में भी पार्टी को विपक्ष में ही रहना पड़ेगा। इसलिए आपसी मतभेदों को मिटाकर पार्टी के लिए निष्ठा से काम करें। क्योंकि हिमाचल में कांग्रेस पार्टी कभी हारने वाली पार्टी नहीं है। आपसी गुटबाजी से ही नुक्सान उठाना पड़ रहा है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में टिकट का आबंटन जांच परख कर ही दिया जाएगा। किसी भी पैराशूटी नेता को टिकट नहीं दिया जाएगा। टिकट आबंटन से पहले जिला एवं खंड स्तर से राय ली जाएगी। ऊपर से ही टिकट तय नहीं होगा।
इस अवसर पर अनिस अहमद सचिव अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी, वीरभद्र सिंह चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष, आनंद शर्मा केंद्रीय मंत्री, विपक्ष की नेता विद्या स्टोक्स, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कौल ङ्क्षसह ठाकुर, हिमाचल प्रभारी विरेन्द्र चौधरी ने भी संबोधित किया। इसके बाद उन्होंने एन.एस.यू.आई के प्रदेश भर से आए पदाधिकारियों के साथ बैठक की तथा उन्हें संगठन के लिए काम करने की नसीहत दी।