सेब सीजन में 1.43 सेब पेटियों का अनुमान

शिमला, 27 जून।

हिमाचल की अर्थव्यवस्था में सबसे महत्वपूर्ण योगदान देने वाले सेब की फसल की इस बार 1.43 पेटियों की पैदावार होने की संभावना है। 15 जुलाई से आरंभ हो रहे सेब सीजन की तैयारियों को लेकर आज यहां बचत भवन में आयोजित बैठक में अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी नरेश लटठ ने बताया कि इस साल जिला में 1.43 करोड़ सेब बॉक्स होने का अनुमान उद्यान विभाग द्वारा लगाया गया है ,जबकि वीते वर्ष कुल कुल 84 लाख पेटियों का उत्पादन हुआ था। क्षेत्रवार पैदावार के हिसाब से चिढग़ांव में 16 लाख पेटियां, रोहडू क्षेत्र में 31.32 लाख, जुब्बल-कोटखाई में 34.52 लाख, चौपाल में 10 लाख, ननखडी में 8.25 लाख, रामपुर में 9 लाख, ठियोग में 14.20 लाख, बसन्तपुर में 50 हजार तथा नारकण्डा में 18 लाख सेब पेटियों की पैदावार का अनुमान है।

ल_ नेे कहा कि सेब विपणन हेतु व्यापक प्रबन्ध किये जाएंगे।  सेब को प्रदेश व देश की विभिन्न मण्डियों में ढुलाई हेतु करीब 2850 ट्रकों की आवश्यकता पड़ेगी जिसमें से एक हजार ट्रक स्थानीय तौर पर मौजूद है जबकि शेष ट्रकों की व्यवस्था समय रहते कर ली जायेगी इसके लिये उन्होंने दोनों एडीएम की अध्यक्षता में दो कमेटियों का गठन किया।

उन्होंने बताया कि मुख्य नियन्त्रण कक्ष ठियोग के समीप फागू में आगामी 20 जुलाई से कार्य करना आरम्भ कर देगा जबकि उप-नियन्त्रण कक्ष कुड्डु तथा सैंज में स्थापित किये जाएंगे। सेब ढुलान कार्य में लगे सभी ट्रकों के आने-जाने का पूर्ण ब्यौरा मुख्य नियन्त्रण कक्ष में दर्ज किया जायेगा। सीजन के दौरान जिला की मुख्य सडक़ों पर यातायात को सुचारू बनाने के लिये विभिन्न स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस जवानों की तैनाती की जायेगी। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियन्ताओं से मुख्य सडक़ों के साथ सभी सम्पर्क सडक़ों की समय रहते मुरम्मत करने व संवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त संख्या में जेसीबी तथा बुलडोजर तैनात करने को कहा।