मेगा मार्ट में भाग लेंगे पाकिस्तान के उद्यमी

शिमला, 02 जून  ।

सब बातें तो बहाना हैं, पर असर बात प्यार की है। शिमला में ऐसे आयोजन के अवसर को गंवाना नहीं चाहिए। मेगा मार्ट में भाग लेने के लिए पाकिस्तान के व्यापारियों में काफी उत्साह है। 200 से ज्यादा उद्यमियों ने आयोजन में भाग लेने के लिए आवेदन किए थे। लकिन जगह की कमी के चलते 80 उद्यमी यहां आ रहे हैं।
मेगामार्ट-2012 में शिरकत करने शिमला पहुंचे पाकिस्तान वल्र्ड ट्रेड के मुख्य कार्यकारी व रावलपिंडी चैंबर आफ कार्मस एंड इंडस्ट्रीज के सदस्य खुर्शीद बार्लोस ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए उक्त बातें कहीं। पीएचडी चैंबर आफ कामर्स और पर्यटन विभाग के संयुक्त तत्वाधान से आयोजित इस मेगामार्ट में अफगानिस्तान, थाइलेंड, मिश्र के अलावा भारत के विभिन्न राज्यों से भी उद्यमी शिरकत करेंगे। इसका आयोजन 3 से 7 जून के मध्य राजधानी के इंदिरा गांधी खेल स्टेडियम में किया जा रहा है। 

खुर्शीद ने बताया कि दोनों मुल्कों को टुरिज्म वीजा को खोलने की दिशा में प्रयास करने चाहिए। इससे मुल्कों के हजारों, लाखों लोगों की पारस्परिक बातचीत बढ़ेगी तथा आवाम को एक-दूसरे के नजदीक आने का अवसर प्राप्त होगा। दोनों देश जब एक मंच पर आकर सभी समस्याओं को सुलझाएंगे तब व्यापार के लिए युरोपीय देशों पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। उन्होंने कहा कि इस आयोजन में पाकिस्तान के हैंडिक्राफट, आर्टिफिसियल ज्वैलरी, लेडी फैबरिक, टैक्सटाइल जैसे उत्पाद उपलब्ध होंगे। उन्होंने कहा कि इसी साल सितंबर माह में भारत के उद्यमियों का एक दल पाकिस्तान आएगा।

इस अवसर पर पर्यटन विभाग के निदेशक अरूण शर्मा ने बताया कि टूरिज्म इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए मेगा मार्ट का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पर्यटन विभाग द्वारा चलाई गई ‘हर गांव की कहानी’ का दूसरा चरण 15 जून को शुरू किया जाएगा। ‘हर गांव की कहानी’ व ‘हर घर कुछ कहता है’ के बाद विभाग हैरिटेज वाटर पर काफीटेवल बुक प्रकाशित करेगा।