पर्यटन क्षेत्र में बढेंगे रोजगार के मौके : धूमल

शिमला, 10 मई । मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने कहा है कि राज्य के सकल घरेलू उत्पाद में पर्यटन क्षेत्र का लगभग 25 प्रतिशत योगदान रहेगा, इससे इस क्षेत्र में रोजगार एवं स्वरोजगार के भी व्यापक अवसर प्राप्त होंगे। मुख्यमंत्री ने आज यहां अंतरराष्ट्रीय पर्यटन पत्रिका ‘लोनली प्लेनेट’ द्वारा प्रदेश को सर्वश्रेष्ठ साहसिक गंतव्य-2011 के लिए प्रदान की गई ट्रॉफी को उन्हें प्रस्तुत किए जाने के अवसर पर यह जानकारी दी।

इस अवसर पर धूमल ने कहा कि पिछले चार वर्षों के दौरान राज्य को मिले पांच दर्जन से अधिक पुरस्कारों में से ज्यादातर पर्यटन क्षेत्र में ही मिले हैैं जो पर्यटन क्षेत्र में हुई प्रगति को दर्शाते हैं। प्रदेश में आने वाले सैलानियों की संख्या में वर्ष इजाफा हो रहा है। पिछले वर्ष 1.5 करोड़ पर्यटकों ने राज्य का दौरा किया जिनमें लगभग 5 लाख विदेशी पर्यटक थे, जो देश के अन्य सभी राज्यों में आने वाले विदेशी पर्यटकों में सर्वाधिक है।

उन्होंने कहा कि पर्यटन गतिविधियों में विविधता लाने के लिए पर्यटन विभाग ने कई नई योजनाएं आरंभ की हैं। प्रदेश सरकार की ‘होम स्टे योजना’ खूब लोकप्रिय हुई है और ग्रामीण भी काफी संख्या में अपने आवासों को इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत करवाने के लिए आगे आ रहे हैं। इसी तरह ‘हर गांव की कहानी’ योजना विभिन्न गांवों की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि एवं उनसे जुड़ी रोचक कहानियॉ की जानकारी उपलब्ध करवा रही है।