निगम चुनावों के आखिरी राऊंड में दिग्गजों ने संभाला मोर्चा

शिमला, 24 मई ।

विधानसभा चुनावों से पहले निगम को फतह करने में सियासी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। चुनावों के अंतिम पड़ाव में पहुंचने पर मतदाताओं को रिझाने के लिए अब पार्टियों के दिग्गजों ने मोर्चा संभाल लिया है।

मिनी एसेंबली इलेक्शनों में भाजपा, कांग्रेस व माकपा अपने कददावर नेताओं को उतारकर प्रचार अभियान में जान फूंकने में जुटे हैं। निगम चुनाव 27 मई को होने हैं, ऐसे में प्रचार के आखिरी दो रोज दलों के अग्रिम पंक्तियों के नेताओं द्वारा पसीना बहाया जा रहा है।

सतारूढ़ भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कमान संभाली है, वहीं कांग्रेस की ओर से दिग्गज नेता व केंद्रीय मंत्री वीरभद्र मैदान में उतारे गए हैं। दोनों नेताओं की शहर के विभिन्न वार्डों में ताबड़तोड़ जनसभाएं रखी गई हैं। भाजपा ने जहां पांच काबीना मंत्रियों को प्रचार अभियान की जिम्मेदारी सौंपी है, वहीं कांगे्रस के  भी विधायकों ने प्रचार अभियान में ताकत झोंक दी है।
दोनों प्रमुख दलों के बीच सेंध लगाने की कवायद में जुटी माकपा भी अपने प्रचार अभियान में पीछे नहीं है। माकपा की ओर से स्टार प्रचारक एव ंपोलित ब्यूरो के सदस्य सीताराम येचुरी वोटरों को रिझाने शिमला आए हैं।

वीरवार को भाजपा के महापौर पद के प्रत्याशी डा0 एस एस मिन्हास एवं उप महापौर पद के प्रत्याशी दिग्विजय चौहान ने कसुम्पटी बाजार में रैली निकालकर प्रचार की शुरूआत की। उनके साथ पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री जयराम ठाकुर सहित अन्य प्रमुख नेताओं ने भाग लिया। इसके पश्चात भाजपा प्रत्याशियों ने हार्टिकल्चर ऑफिस नवबहार, साई फाउंडेशन ऑफिस न्यू शिमला में जाकर पार्टी के पक्ष में प्रचार किया।

भाजपा की समरहिल वार्ड की प्रत्याशी सुनीता शर्मा ने कार्यकर्ताओं के साथ समरहिल चौक में एक जनसभा का आयोजन किया। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिह सत्ती सहित अन्य नेता उपस्थित थे। केंद्रीय मंत्री वीरभद्र सिंह ने मल्याणा, विकास नगर और नाभा में जनसभाएं कर कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में वोट देने की अपील की।