कामगार कल्याण बोर्ड आरंभ करेगा ‘श्रम को सम्मान ’ योजना

शिमला,17 मई।

हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की अपने पास पंजीकृत श्रमिकों को त्वरित लाभ पहुंचाने के लिए महत्वांकाक्षी योजना ‘श्रम को सम्मान’ आंरभ कर रहा है।

बोर्ड के अध्यक्ष जोगिंद्र वर्मा ने बताया कि वीरवार को हुई बोर्ड की बैठक में यह फैसला लिया गया। श्रम को सम्मान योजना के अन्तर्गत लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए तीन वर्ष की अवधि रखी गर्इ है। इसदौरान एक लाख कामगरों का पंजीकरण व 300 करोड़ रुपये का  सैस एकत्रित करने का लक्ष्य रखा गया है।

उन्होंने कहा कि बोर्ड के कार्य का सही प्रकार से संचालन सुनिश्चित बनाने के लिए जिला स्तर पर कार्यालय खोले जाएंगे तथा लक्ष्य प्राप्ति के लिए कार्यालयों में से केंडमेंट/सेवानिवृत्त या आउटसोर्स आधार पर अधिकारियों व कर्मचारियों की भर्ती करने का भी निर्णय लिया गया। 
मुख्य कार्यालय में नियमित अथवा अनुबंध आधार पर कर्मचारियों की नियुक्ति सम्बन्धी प्रस्ताव को अनुमोदित कर प्रदेश सरकार की स्वीकृति के लिए भेजने का निर्णय भी लिया गया है।

बैठक की कार्यवाही का संचालन मुख्य कार्यकारीअधिकारी एवं सचिव रणबीर सिपहिया ने किया। प्रधान सचिव विधि   ए.सी. डोगरा, श्रमायुक्त मोहन चौहान, सहायकनियंत्रक (वित्त एवंलेखा) गोविन्द राय, विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और बोर्ड में विभिन्न श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।