कांग्रेस की सरकारों ने किया शिमला शहर से अन्याय : धूमल

शिमला, 10 मई।

मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा है कि भाजपा सरकार जब भी सत्ता में आई है, तो उसने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर नगर निगम को समय-समय पर उदार वित्तीय सहायता दी है, ताकि स्थानीय निवासियों को निगम की सेवाएं मिल सके।

 

धूमल ने कहा कि भाजपा सरकार ने पिछले चार वर्षों में नगर निगम को 80.40 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता दी है, जबकि पूर्व कांग्रेस सरकार ने वर्ष 2003-04 से 2007-08 के बीच मात्र 14.30 करोड़ रुपये दिए थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने शिमला शहर के साथ हमेशा अन्याय किया।

शिमला में गुरूवार को पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में धूमल ने कहा कि कुप्रबन्धन के कारण निगम आज कठिन दौर से गुजर रहा है, जिससे आम आदमी को असुविधाओं से दो-चार होना पड़ रहा है। यह नगर निगम की जिम्मेदारी है कि वह शहरवासियों को बेहतर पेयजल, बिजली, साफ-सफाई और अन्य सुविधाएं प्रदान करे। लेकिन शहर के लोग जानते हैं कि वास्तविकता क्या है।

धूमल ने कहा कि वर्ष 1984 से कांग्रेस पार्टी नगर निगम शिमला में सत्तासीन रही है और वह अपनी जिम्मेदारी निभाने में पूरी तरह विफल रही है। कांग्रेस जब निगम में पूर्ण बहुमत पाने में असफल रही तो वह सत्ता में बने रहने के लिए वामपंथी दल का सहयोग लेती रही और निगम के वर्तमान हालात के लिए ये दोनों दल जिम्मेवार हैं।