अल्पसंख्यक वर्ग के छात्रों को मिलेगा स्कालरशिप

शिमला, 21 मई।

अल्पसंख्यक समुदाय से सम्बन्धित छात्रों के लिए शिक्षा विभाग द्वारा मैरिट-कम-मीन्ज छात्रवृत्ति तथा मैट्रिकोत्तर छात्रवृत्ति योजना चलाई जा रही है। इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए पात्र विद्यार्थियों के लिए ऑन लाईन आवेदन करना अनिवार्य है।

यह जानकारी देते हुए शिक्षा विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि मैरिट-कम-मीन्ज छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत मुस्लिम, सिख, ईसाई और बौद्ध अल्पसंख्यक समुदाय से सम्बन्धित वह पात्र विद्यार्थी छात्रवृत्ति के हकदार होंगे, जिनके माता-पिता की वार्षिक आय दो लाख 50 हजार रुपये से अधिक न हो और जिन्होंने पिछली उत्र्तीण की गई परीक्षा में 50 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किए हों।

इस योजना के तहत विद्यार्थी अपना नवीन आवेदन पत्र 222.द्वशद्वड्डह्यष्द्धशद्यड्डह्म्ह्यद्धद्बश्च.द्दश1.द्बठ्ठ पर 30 सितम्बर, 2012 तक ऑन लाईन भेज सकते हैं। प्रवक्ता के अनुसार पहले से पंजीकृत विद्यार्थियों को अपना नवीनीकरण आवेदन पत्र 31 दिसम्बर, 2012 तक ऑन लाईन जमा करवाना होगा। इसकी एक प्रति संस्था में जमा करवानी अनिवार्य है।

उन्होंने कहा कि मैट्रिकोत्तर छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत वह पात्र विद्यार्थी छात्रवृत्ति के हकदार होंगे, जिनके माता-पिता की वार्षिक आय दो लाख रुपये से अधिक न हो और जिन्होंने पिछली उत्र्तीण की गई परीक्षा में 50 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किए हों। इस योजना के तहत विद्यार्थी को अपना नवीन आवेदन पत्र भी उपरोक्त बेवसाइट पर 15 अगस्त, 2012 तक ऑन लाईन भेज सकते हैं। सरकारी/गैर सरकारी वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं के विद्यार्थियों को अपना आवेदन पत्र 15 जुलाई, 2012 तक विद्यालय के प्रधानाचार्य के पास जमा करवाना होगा।
प्रवक्ता ने कहा कि इस योजना का लाभ उठाने के लिए महाविद्यालय व विश्वविद्यालय के छात्रों को भी अपना पंजीकरण/आवेदन ऑनलाईन ही करना होगा।