शिमला में बारिश और ओले, ठण्ड से सेब को नुकसान

शिमला, 25 अप्रैल।

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में सुबह से अच्छी धूप खिलने के बाद अचानक दोपहर बाद मौसम में बदलाव आया और गर्ज के साथ तेज बारिश तथा ओले गिरने से दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई।

प्रदेश के अन्य भागों से भी वर्षा होने की सूचना मिली है जबकि रोहतांग सहित उंचे पहाड़ो पर कुछ स्थानों पर हिमपात हुआ है। ओले गिरने से फलों और सब्जियों को नुकसान होने की भी सूचना है। कुल्लू जिले की मुख्य पर्यटक नगरी मनाली में आज दोपहर बाद वर्षा हो रही है जबकि रोहतांग और मढ़ी में ताजा हल्का हिमपात हुआ।

विशेषज्ञों का मानना है कि गत दिनों से लगातार पड़ रही ठण्ड के कारण सेब की फसल को भारी नुकसान हो रहा है। ठंड और ओलों से बागवानों को दोहरी मार पड़ रही है तथा मधुमक्खियॉं जो फूलों पर प्रांगण के लिए उपयोगी मानी जाती है, भारी ठण्ड के कारण मौत हो रही है।

मौसम विज्ञान केन्द्र शिमला के अनुसार अगले 29 अप्रैल तक प्रदेश में कुछ स्थानों पर पश्चिमी विक्षोभ के कारण बारिश तथा ऊंचे पहाड़ों पर हिमपात होने की संभावना है। कांगड़ा जिले के बजौरा में सबसे अधिक वर्षा 13 मिलीमीटर हुई जबकि डल्हौजी में 12 मि.मी., गगल में 10 तथा मशोबरा और सिओबाग और रामपुर में 5 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई, इसके अलावा मनाली में भी आज सुबह 08:30 बजे तक 6.6 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी थी। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में राज्य के मध्यमवर्ती और ऊंचे पहाड़ों पर वर्षा और हिमपात हो सकता है। जबकि राजधानी में भी हल्के बादल छाए रहने की संभावना है।
प्रदेश में  केलांग से सबसे कम तापमान 5.2 डिग्री रिकार्ड किया गया जबकि ऊना में सबसे अधिक 36 डिग्री रिकार्ड किया गया। इसके अलावा कल्पा में 6 डिग्री, शिमला 11.6 डिग्री, सुन्दरनगर 13.5 डिग्री, भुन्तर 11.6 डिग्री, धर्मशाला 16.7 डिग्री, ऊना 18.4 डिग्री, मंडी 21.9 डिग्री, नाहन 18.1 डिग्री, सोलन 12.6 डिग्री और मनाली में 7.2 डिग्री न्यूनतम तापमान रहा।