11 हजार रुपए कन्या दान देगी हरियाणा सरकार

हरियाणा सरकार ढाई एकड़ या इससे कम भूमि तथा एक लाख रुपए वार्षिक से कम आय वाले परिवारों की लड़कियों की शादियों में शगुन के तौर पर 11 हजार रुपए कन्या दान के तौर पर देगी।

एक सरकारी प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इससे पहले यह योजना सिर्फ बीपीएल परिवारों के लिए ही लागू थी। हालांकि बीपीएल परिवारों की लड़कियों की शादी के लिए इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी विवाह शगुन योजना के तौर पर अनुसूचित जाति, विमुक्त जाति, टपरीवास जाति के लोगों तथा सभी वर्गों की विधवाओं की लड़कियों की शादी में शगुन के तौर पर 31 हजार रुपए तथा अन्य वर्गों के लोगों को लड़की की शादी हेतु 11 हजार रूपए की अनुदान राशि शगुन के रूप में दी जाती हैं।

उन्होंने बताया कि सरकार ने अब योजना में संशोधन करते हुए ढाई एकड़ तक भूमि वाले तथा एक लाख रुपए तक वार्षिक आमदनी वाले परिवारों को भी इस योजना में शामिल किया गया है। इस योजना के तहत लाभपात्र प्रार्थी हरियाणा राज्य का स्थाई निवासी हो और उसका नाम बीपीएल सूची में दर्ज हो। वहीं ढाई एकड़ भूमि से कम तथा एक लाख रुपए तक आमदनी वाले परिवारों के लिए बीपीएल की पात्रता आवश्यक नहीं है। उन्होेंने बताया कि इस योजना के तहत एक व्यक्ति की दो लड़कियों की शादी तक ही अनुदान दिया जाता है।

प्रवक्ता ने बताया कि विधवा/तलाकशुदा महिला स्वयं के पुनर्विवाह हेतु भी इस योजना के तहत अनुदान प्राप्त कर सकती है, बशर्ते वह योजना की अन्य शर्तें पूरी करती हो और उसने अपनी शादी हेतु पहले अनुदान प्राप्त न किया हो। उन्होंने बताया कि योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए प्रार्थी ने यदि किसी कारणवश शादी की तिथि से पूर्व प्रतिवेदन न दिया हो तो कारण स्पष्ट करते हुए शादी के एक मास बाद तक भी आवेदन दिया जा सकता हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन पत्र जिला/तहसील कल्याण अधिकारी के कार्यालय से मुफ्त प्राप्त करके तथा उसे पूर्ण रूप से भर कर सभी आवश्यक दस्तावेजों जैसे लड़की की आयु का प्रमाण-पत्र, जाति प्रमाण-पत्र, बीपीएल सूची एवं सरपंच/पटवारी की रिपोर्ट व शादी के कार्ड सहित उक्त कार्यालय में ही जमा करवाए जा सकते है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए जिला/तहसील कल्याण अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है।