हिमाचल में हुआ हर तबके का विकास : कपाहटिया

शिमला, 31 मार्च।

हिमाचल सरकार ने सभी वर्गो का ध्यान में रखकर प्रदेश में समुचित विकास किया है, जिसका फायदा दूरवर्ती इलाको से लेकर आम जनता को मिला है। गत साढ़े चार वर्षो मेें राज्य सरकार में समग्र विकास तथा समाज के कमजोर एवं उपेक्षित वर्गों के उत्थान के लिए विशेष ध्यान दिया है तथा विधानसभा चुनावों के दौरान राज्य के लोगों से किए सभी वायदे पूरे किये है। यह बात प्रदेश मीडिया सलाहकार समिति के उपाध्यक्ष डा0 अशोक कपहाटिया ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में कही।

कपाहटिया ने कहा कि सरकार बनते ही मुख्यमंत्री प्रो0 प्रेम कुमार धूमल ने समाज के हर वर्ग तक पहुंचने का दावा किया था। राज्य में सामाजिक सुरक्षा, कृषि, शिक्षा, सिंचाई तथा ग्रामीण क्षेत्रों में विकास का रूख मोडऩे का सफल प्रयास किया गया है। वर्तमान सरकार ने अन्य सरकारों की तुलना में प्रदेश में सबसे अधिक विकास कार्य किये है।
उन्होंने कहा कि वर्तमान में बजट प्रावधानों में सरकार ने समाज के हर वर्ग का ख्याल रखा है। राज्य में राशन पर 130 करोड़ की सब्सिडी जारी रखी गई है, इससे बीपीएल व एपीएल दोनों परिवार लाभान्वित होंगे। दिहाड़ीदारों की दिहाड़ी को सरकार ने सवा चार साल में 75 रूपये से बढ़ाकर 130 किया है। सरकारी क्षेत्र के साथ निजी क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित हुए हैं। वर्तमान में हिमाचल शिक्षा का हब बन कर उभर रहा है। निजी विश्वविद्यालयों में 11500 छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं, इनमें 6500 हिमाचली शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए राज्य सरकार लोकपाल को इसी सत्र में लाने की कोशिश कर रही है। राज्य सरकार द्वारा लोकायुक्त के प्रारूप पर समाज के सभी वर्गों से सुझाव मांगे है तथा अन्ना समर्थकों से भी विचार विमर्श किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार को समाप्त करने के प्रति कृतसंकल्प है और इसी दिशा में कार्य कर रही है। राज्य सरकार की भ्रष्टाचार के विरूद्ध ज़ीरो टॉलरेंस नीति के अनुरूप है।